BREAKING NEWS
  • Karva Chauth 2019: करवाचौथ पर पति के सामने कैसे दिखें 'परफेक्ट', अपनाएं ये आसान टिप्स- Read More »
  • पहली बार सामने आए महेंद्र सिंह धोनी, बताया भावनाओं पर कैसे करते हैं नियंत्रण- Read More »
  • Indian Railway: IRCTC के इस खास ऑफर से दिवाली और छठ के लिए बगैर पैसे के बुक कराएं ट्रेन टिकट- Read More »

सिर्फ 50,000 रुपये में शुरू करें ये बिजनेस, पाएं इतना गुना मुनाफा

News State Bureau  |   Updated On : April 13, 2019 09:35:10 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

मौजूदा समय में देश में आर्युवेद को खासी तवज्जो मिल रही है. सरकार भी इसको बढ़ावा देने के लिए काफी प्रयासरत है. सरकार आयुर्वेदिक उत्पादों की फैक्टरी लगाने के लिए काफी सस्ते लोन मुहैया करा रही है. सरकार Prime Minister's Employment Generation Programme (PMEGP) के तहत 90 फीसदी तक का कर्ज दे रही है. साथ ही यूनिट लगाने पर 25 फीसदी तक की सब्सिडी भी दे रही है. आयुर्वेदिक उत्पादों की बात करें तो वटी गुटिका की मांग मौजूदा समय में काफी ज्यादा देखने को मिल रही है. कई बड़ी आयुर्वेदिक कंपनियां वटी गुटिका का उत्पादन कर रही हैं. बता दें कि वटी या गुटिका गले की खराश, कब्‍ज, एलर्जी जैसी बीमारियों में तुरंत आराम देती है.

यह भी पढ़ें: बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद का बड़ा फैसला, क्या होगा ग्राहकों पर असर

बता दें कि खादी एंड विलेज इंडस्‍ट्रीज कमीशन (KVIC) के सैंपल प्रोजेक्‍ट प्रोफाइल में वटी गुटिका बनाने वाली मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट के प्रोजेक्‍ट को भी शामिल किया गया है. इनकी प्रोजेक्‍ट की लागत लगभग 5 लाख रुपये है. PMEGP के तहत अगर आप कर्ज के लिए आवेदन करते हैं तो आपके पास सिर्फ 50,000 रुपए की शुरुआती राशि होनी चाहिए. PMEGP के तहत प्रोजेक्ट का 90 फीसदी लोन आपको मिल जाएगा

यह भी पढ़ें: ऐसा कानून जिससे लाखों फ्लैट बायर्स को हुआ फायदा, बिल्डरों के लिए बना जी का जंजाल

कितनी होगी प्रोजेक्‍ट की लागत
KVIC के प्रोजेक्‍ट प्रोफाइल के अनुसार इस प्रोजेक्‍ट की लागत करीब 5 लाख रुपये आने की उम्मीद है. इसमें मशीनरी, वर्किंग कैपिटल, वर्कशॉप का किराया आदि भी शामिल है.

यह भी पढ़ें: मार्च में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 2.86 फीसदी पर पहुंची, पिछले साल के मुकाबले आई कमी

First Published: Apr 13, 2019 08:14:25 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो