BREAKING NEWS
  • CBI की पूछताछ से लेकर कोर्ट तक चिदंबरम मामले की 15 बड़ी बातें- Read More »
  • योगी मंत्रिमंडल में हुआ विभागों का बंटवारा, जानें किसे मिला कौन सा मंत्रालय- Read More »
  • PAK को भारत के साथ कारोबार बंद करना पड़ा भारी, अब इन चीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 35% ज्यादा दाम- Read More »

Commodity Future Market: कमोडिटी मार्केट में कैसे शुरू करें ट्रेडिंग, जानें इसकी ABCD

Dhirendra Kumar  |   Updated On : May 16, 2019 08:48 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

कमोडिटी वायदा मार्केट (Commodity Future Market) के बारे में ज्यादातर लोगों को जानकारी का अभाव है. बहुत से लोग कमोडिटी वायदा बाजार में ट्रेडिंग तो करना चाहते हैं लेकिन उन्हें उसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होने की वजह से घबराते हैं. हमारी ये रिपोर्ट ऐसे ही लोगों के लिए है जो कमोडिटी फ्यूचर मार्केट में ट्रेडिंग करना चाहते हैं. आइये जानते हैं कि कमोडिटी वायदा में ट्रेडिंग की क्या बारीकियां हैं.

यह भी पढ़ें: Investment Funda: कैसे चुनें म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) में निवेश के ऑप्शन

कैसे करें कमोडिटी में ट्रेड?

  • सबसे पहले ट्रेडिंग अकाउंट खुलवाना पड़ेगा
  • ट्रेडिंग अकाउंट के जरिये खरीद-बिक्री कर सकते हैं
  • ट्रेडिंग अकाउंट किसी ब्रोकिंग फर्म के साथ खुलवा सकते हैं
  • ब्रोकर्स MCX और NCDEX का सदस्य जरूर हो
  • एक्सचेंज की वेबसाइट से ब्रोकर्स के बारे जानकारी जुटा सकते हैं

यह भी पढ़ें: सोना (Gold) में करना चाहते हैं निवेश, हम बताएंगे आपको बेहतरीन तरीके

ट्रेडिंग अकाउंट के लिए जरूरी

  • पैन कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ
  • बैंक खाता

देश में MCX और NCDEX दो बड़े कमोडिटी एक्सचेंज

  • MCX पर नॉन-एग्री कमोडिटी वायदा में ट्रेडिंग ज्यादा
  • NCDEX पर एग्री कमोडिटी वायदा में ट्रेडिंग ज्यादा
  • BSE और NSE पर भी होती है कुछ कमोडिटी में ट्रेडिंग
  • नॉन-एग्री कमोडिटी में सोना-चांदी, क्रूड, मेटल शामिल
  • एग्री में ग्वार, चना, तिलहन, मसाला, शुगर में ट्रेडिंग

यह भी पढ़ें: म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) इनवेस्टमेंट को आधार कार्ड से कैसे करें लिंक, जानें तरीका

कमोडिटी वायदा में मार्जिन

  • कुछ रकम देकर पूरा सौदा उठाना मार्जिन कहा जाता है
  • वायदा कुछ रकम देकर भी ट्रेडिंग संभव
  • हाजिर में सौदे का पूरा भुगतान करना पड़ता है
  • हर कमोडिटी की खरीद-बिक्री के लिए पहले से मार्जिन तय
  • आमतौर पर मार्जिन मनी 3% से 5% के बीच
  • उतार-चढ़ाव की स्थिति में एक्सचेंज अतिरिक्त मार्जिन लगाता है

यह भी पढ़ें: Debt Mutual Fund: इनवेस्टमेंट का सबसे सुरक्षित तरीका, क्या है खासियत जानें

कमोडिटी ट्रेडिंग के लिए जरूरी बातें

  • कमोडिटी ट्रेडिंग में शेयर की तरह लंबी अवधि नहीं
  • कमोडिटी मार्केट में 2-3 सीरीज में ही कारोबार
  • खरीद-बिक्री एक निश्चित अवधि में करना जरूरी
  • शुरुआत में मिनी लॉट में ट्रेड करना समझदारी
  • बाजार की समझ बढ़ने के बाद बड़े लॉट में करें ट्रेड

यह भी पढ़ें: World Gold Council: शादी के सीजन में सस्ता हुआ सोना, बढ़ी गहनों की डिमांड

  • हर सौदे में स्टॉप-लॉस जरूर लगाएं
  • कई लॉट में ट्रेडिंग के लालच में नहीं फंसे
  • लिक्विड कमोडिटी में ट्रेड करना फायदेमंद
  • बुलियन, क्रूड, मेटल्स की ट्रेडिंग में जोखिम कम
  • कमोडिटी मार्केट में डिविडेंड, बोनस नहीं
  • सौदा कटने के बाद फायदा या नुकसान
  • कमोडिटी मार्केट पर सेंट्रल बैंकों के फैसले का असर
  • एग्री कमोडिटी पर फसल और उत्पादन अनुमान का असर

यह भी पढ़ें: Investment: लिक्विड फंड (Liquid Fund) का क्या है फंडा, जानिए पूरा गणित

First Published: Friday, May 03, 2019 04:47:15 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Commodity Market, Market, Trading, Commodity, Future Market, Mcx, Ncdex, Bse, Nse,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो