हेल्थ इंश्योरेंस (Health Insurance) में मैटरनिटी कवर (Maternity Cover) लेना क्यों है जरूरी, जानिए इसके फायदे

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : November 04, 2019 02:55:53 PM
हेल्थ इंश्योरेंस में मैटरनिटी कवर लेना क्यों है जरूरी, जानिए फायदे

हेल्थ इंश्योरेंस में मैटरनिटी कवर लेना क्यों है जरूरी, जानिए फायदे (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

हेल्थ इंश्योरेंस (Health Insurance): भारत में मौजूदा समय में प्रसव के ऊपर काफी खर्च होता है. मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए अस्पतालों में प्रसव (Maternity) कराना महंगा होता जा रहा है. एक बार में प्रसव पर 1 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक का खर्च भी हो जाए तो आश्चर्य नहीं है. ऐसे में अगर कोई युवा दंपति बच्चे के लिए प्लानिंग कर रहे हैं तो उन्हें बच्चे के जन्म और प्रसव संबंधी खर्चों की जानकारी होना और उसके लिए प्लानिंग करना बेहद जरूरी है.

यह भी पढ़ें: Gold Price Today: सोने-चांदी की आज कैसी रहेगी चाल, MCX पर क्या बनाएं रणनीति, जानें यहां

दरअसल, भविष्य में होने वाले खर्चों का बोझ उनकी रोजमर्रा जिंदगी पर ना पड़े इसलिए ऐसा करना बेहद जरूरी है. ऐसे दंपति को ऐड-ऑन मैटरनिटी कवर वाला स्वास्थ्य बीमा हेल्थ इंश्योरेंस (Maternity Cover Insurance) लेना फायदेमंद रहेगा.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले में भारत के गैर खिलाड़ी कप्तान होंगे रोहित

क्या होता है मैटरनिटी कवर? what is the maternity cover
स्वास्थ बीमा में मैटरनिटी कवर (maternity cover) होने से आप मेहनत की कमाई से बचाए हुए पैसे को खर्च करने से बच सकते हैं. इसके अलावा मैटरनिटी कवर होने से गर्भवती स्त्री (pregnant women) और नवजात शिशु को मेडिकल सुरक्षा भी मिलती है. कंपनियां मैटरनिटी कवर 20-25 वर्ष की आयु वाले दंपतियों के लिए तैयार करती हैं. हालांकि मौजूदा समय में अलग-अलग कंपनियों के हेल्थ इंश्योरेंस (health insurance) में मैटरनिटी कवर में ज्यादा उम्र की महिलाओं को भी शामिल किया जाता है. जानकार कहते हैं कि शादी के तुरंत बाद मैटरनिटी कवर ले लेना चाहिए, ताकि जब जरूरत पड़े तो वेटिंग पीरिएड से बचा जा सके.

यह भी पढ़ें: फैक्ट्रियों में डाका डालने में थे माहिर! सूचना पर पुलिस ने धर दबोचे दो इनामी बदमाश

पॉलिसी लेते समय इन बातों का रखें ध्यान - Keep these things in mind for purchase

  • स्वास्थ बीमा खरीदते समय मैटरनिटी लाभ देने वाले प्लान के लिए अलग-अलग नियम और शर्तें होती हैं. नियमों और शर्तों को ध्यानपूर्वक जरूर पढ़ें
  • प्रतीक्षा अवधि (waiting period), कवरेज लिमिट, सामान्य एवं सीजेरियन सेक्शन डिलिवरी के लिए सब-लिमिट पर ध्यान देना चाहिए
  • नवजात शिशु को पहले से दिन से कवरेज, टीकाकरण लाभ जैसे फीचर हैं कि नहीं जरूर जानना चाहिए
  • मौजूदा समय में मैटरनिटी प्लान 2-4 वर्ष की प्रतीक्षा अवधि (waiting period) के साथ मिलते हैं इसलिए पॉलिसी को जल्द से जल्द खरीदें

यह भी पढ़ें: हनी ट्रैप कांड में हुआ नया खुलासा, आरोपी महिलाओं ने 6 और छात्राओं को फंसाया था

(Disclaimer: निवेशक निवेश से पहले अपने वित्तीय सलाहकार की सलाह जरूर लें. न्यूज स्टेट की खबर को आधार मानकर निवेश करने पर हुए लाभ-हानि का न्यूज स्टेट से कोई लेना-देना नहीं होगा. निवेशक स्वयं के विवेक के आधार पर निवेश के फैसले लें)

First Published: Nov 04, 2019 02:55:53 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो