BREAKING NEWS
  • राष्‍ट्रपति शासन की ओर बढ़ रहा है महाराष्‍ट्र, पीएम नरेंद्र मोदी ने बुलाई इमरजेंसी कैबिनेट मीटिंग- Read More »

हर महीने निश्चित आय की गारंटी, जानें पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (POMIS) की Detail

Dhirendra Kumar  |   Updated On : May 25, 2019 10:43:16 AM
Post Office Monthly Income Scheme (POMIS)-पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना

Post Office Monthly Income Scheme (POMIS)-पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  केंद्र सरकार की लघु बचत योजना है पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना 
  •  POMIS में जमा रकम पर सालाना (Annual) 7.7 फीसदी ब्याज
  •  Post Office Monthly Income Scheme में टैक्स बेनिफिट नहीं 

नई दिल्ली:  

पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (Post Office Monthly Income Scheme) केंद्र सरकार की लघु बचत योजनाओं के अंतर्गत आती है. सरकार ने इसे निम्न आय वर्ग और मध्यम वर्ग के लोगों को ध्यान में रखकर शुरू किया गया है.

यह भी पढ़ें: राष्ट्रीय बचत पत्र (NSC) में निवेश से कैसे बचाएं टैक्स, समझें पूरा गणित

क्या है डाकघर मासिक आय योजना - What Is Monthly Income Scheme
इस मासिक आय योजना में एकमुश्त रकम जमा करने पर हर महीने ब्याज (Interest) की कमाई होती है. जिनकी आमदनी रेग्युलर (regular income) नहीं है उनके लिए यह स्कीम काफी फायदेमंद है. अगर उनके पास एकमुश्त पैसा है तो वे इस स्कीम से रेग्युलर इनकम की व्यवस्था कर सकते हैं. इस स्कीम (POMIS) में आपकी मूल रकम में कोई बदलाव नहीं होता है. पूरी तरह से सरकारी योजना होने की वजह से किसी भी तरह का जोखिम भी नहीं है.

यह भी पढ़ें: Post Office Senior Citizen Savings Scheme (SCSS): यहां पैसा लगाएं और FD से ज्यादा ब्याज पाएं

नाम पर ही खोला जा सकता है अकाउंट - Account can be opened on the name
पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (Post Office Income Scheme) में निवेशक सिर्फ अपने नाम पर अकाउंट खुलवा सकते हैं. इस स्कीम में समूह, संस्था, समिति या परिवार के नाम पर अकाउंट खोलने की अनुमति नहीं है. व्यस्क (Adult), अव्ययस्क (Minor) या बच्चा (Child) किसी के भी नाम पर यह अकाउंट खोल सकते हैं.

यह भी पढ़ें: Post Office की 3 स्कीम पैसा कर देती हैं चार गुना, जानें तरीका

POMIS पर कितना मिलता है ब्याज - Interest rates On POMIS
POMIS में जमा रकम पर सालाना (Annual) 7.7 फीसदी ब्याज मिलता है. चूंकि सरकार हर तीन महीने में ब्याज दरों की समीक्षा करती है. इसलिए ब्याज दरों में समय-समय पर बदलाव होने से आपकी मासिक आय में उतार-चढ़ाव हो सकता है. इस ब्याज को निवेशक को हर महीने 12 किस्तों में बांट दिया जाता है. इस स्कीम में मासिक किस्त को पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट (Post Office Saving Account) में जमा कर दिया जाता है.

यह भी पढ़ें: Post Office Time Deposit Account (TD) : बैंक FD से ज्‍यादा ब्‍याज के साथ पाएं दोहरा फायदा

इस स्कीम में टैक्स बेनिफिट नहीं - No Tax Benefit
पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (Post Office Monthly Income Scheme) में आपको टैक्स पर बेनिफिट नहीं मिलता है. स्कीम में मिलने वाले ब्याज पर टैक्स छूट का लाभ नहीं मिलता है. मासिक आय के रूप में कुल ब्याज को आपके करयोग्य आय (Taxable Income) में शामिल किया जाता है.

First Published: May 25, 2019 08:19:17 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो