BREAKING NEWS
  • अयोध्या मामले में किस पक्षकार ने लिखित जवाब में क्या कहा, जानें यहां- Read More »
  • अयोध्या मामले में किस पक्षकार ने लिखित जवाब में क्या कहा, जानें यहां- Read More »
  • कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी बोलीं- अर्थव्यवस्था में सुधार लाएं, कॉमेडी सर्कस न चलाएं- Read More »

केंद्र सरकार के इस फैसले से लाखों सरकारी कर्मचारियों को झटका, पढ़ें पूरी खबर

News State Bureau  |   Updated On : July 17, 2019 10:09:37 AM
GPF की दरों में 0.10 फीसदी की कटौती

GPF की दरों में 0.10 फीसदी की कटौती (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  सरकार ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए जनरल प्रॉविडेंट फंड (GPF) पर ब्याज दरों को घटाया
  •  वित्त मंत्रालय ने जनरल प्रॉविडेंट फंड (GPF) पर मिलने वाले ब्याज में 0.10 फीसदी की कटौती की
  •  सरकार के फैसले के बाद इस फंड में जमा राशि पर 8 फीसदी ब्याज के बजाए 7.9 फीसदी ब्याज मिलेगा

नई दिल्ली:  

केंद्र सरकार के ताजा फैसले से लाखों सरकारी कर्मचारियों के ऊपर बड़ा असर पड़ने वाला है. दरअसल, सरकार ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए जनरल प्रॉविडेंट फंड (GPF) पर ब्याज दरों को घटा दिया है. GPF की दरों में 0.10 फीसदी की कटौती की गई है. सरकार के इस फैसले के बाद इस फंड में जमा राशि पर मौजूदा 8 फीसदी ब्याज के बजाए अब 7.9 फीसदी ब्याज मिलेगा.

यह भी पढ़ें: Gold-Silver Price Outlook: बुधवार को कैसी रहेगी सोने-चांदी की चाल, यहां जानें एक्सपर्ट की राय

1 जुलाई से लागू हो गई हैं नई दरें
केंद्र सरकार के इस फैसले के तहत नई दरें 1 जुलाई से लागू हो चुकी हैं. वित्त मंत्रालय ने मंगलवार को ब्याज दरों में बदलाव की जानकारी दी है. वित्त मंत्रालय द्वारा जारी बयान के मुताबिक वित्त मंत्रालय ने जनरल प्रॉविडेंट फंड (GPF) पर मिलने वाले ब्याज में 0.10 फीसदी की कटौती कर दी है. सरकारी कर्मचारियों को GPF पर 1 जुलाई से 7.9 फीसदी ब्याज मिलेगा. गौरतलब है कि पिछली तीन तिमाही से GPF पर 8 फीसदी ब्याज दिया जा रहा था.

यह भी पढ़ें: Petrol Diesel Price: दिल्ली और मुंबई में महंगा हुआ पेट्रोल, चेक करें नए रेट

नई ब्याज दरें केंद्र सरकार के कर्मचारियों, रेलवे, सुरक्षा बलों की भविष्य निधि, इंडियन ऑर्डिनेंस फैक्ट्ररीज के कर्मचारियों के भविष्य निधि पर लागू होगी. बता दें कि GPF के सदस्य सिर्फ सरकारी कमर्चारी होते हैं. GPF के तरहत सरकारी कर्मचारी सैलरी का एक हिस्सा निवेश करते हैं. कर्मचारियों को निवेशित रकम का रिटर्न रिटायरमेंट के समय मिलता है.

First Published: Jul 17, 2019 10:09:37 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो