BREAKING NEWS
  • Indian Railway: दिवाली और छठ के लिए नहीं मिला कन्फर्म टिकट तो घबराएं नहीं, इन नई ट्रेनों में करा सकते हैं रिजर्वेशन- Read More »
  • अकाल तख्त (Akal Takht) प्रमुख बोले- बैन हो आरएसएस मोहन भागवत (RSS Chief Mohan Bhagwat) का बयान देशहित में नहीं- Read More »
  • बिहार : डेंगू के मरीजों को देखने गए केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे पर दो युवकों ने फेंकी स्याही, देखें VIDEO- Read More »

​​​​​Muharram 2019: शेयर बाजार, कमोडिटी और करेंसी मार्केट में आज नहीं होगा कारोबार, जानें क्यों

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 10, 2019 07:55:44 AM
Muharram 2019: मुहर्रम के मौके पर आज बंद रहेंगे बाजार

Muharram 2019: मुहर्रम के मौके पर आज बंद रहेंगे बाजार (Photo Credit : )

मुंबई:  

Muharram 2019: मुहर्रम के मौके पर आज यानि मंगलवार (10 सितंबर) को घरेलू शेयर बाजार और कमोडिटी मार्केट बंद रहेंगे. फॉरेक्स (करेंसी) में भी कामकाज बंद रहेगा. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) पूर्व की ही तरह बुधवार को खुलेंगे. हालांकि देश का सबसे बड़ा कमोडिटी एक्सचेंज मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) और नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव एक्सचेंज (NCDEX) में सोमवार को शाम 5 बजे तक कारोबार बंद रहेगा.

यह भी पढ़ें: Petrol Diesel Price: पेट्रोल-डीजल की कीमतों में फिर हो गई बढ़ोतरी, देखें नई लिस्ट

शाम 5 बजे के बाद MCX और NCDEX पर कारोबार
दोनों कमोडिटी एक्सचेंज (Commodity Exchange) में शाम 5 बजे के बाद कारोबार शुरू हो जाएगा. ट्रेडर्स शाम के बाद दोनों ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर कारोबार कर सकेंगे. शाम 5 बजे के बाद MCX और NCDEX पर सभी कॉन्ट्रै्क्ट में सौदे लिए जा सकेंगे. MCX और NCDEX पर रात 11:30 PM तक कारोबार होगा.

यह भी पढ़ें: सातवां वेतन आयोग (7th Pay Commission): इस राज्य के कर्मचारियों को हुआ बड़ा फायदा, अक्टूबर से मिलेगी बढ़ी सैलरी

सोमवार को तेजी के साथ बंद हुआ था सेंसेक्स
बीएसई का मिडकैप सूचकांक 129.99 अंकों की तेजी के साथ 13,494.62 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 115.37 अंकों की तेजी के साथ 12,709.96 पर बंद हुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 9.5 अंकों की गिरावट के साथ 10,936.70 पर खुला और 56.85 अंकों या 0.52 फीसदी तेजी के साथ 11,003.05 पर बंद हुआ.

यह भी पढ़ें: SBI ने फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) और कर्ज (Loan) को लेकर किया बड़ा फैसला

मुहर्रम (Muharram) इस्‍लामी महीना है और इससे इस्‍लाम धर्म के नये वर्ष की शुरुआत होती है. 10वें मुहर्रम को हजरत इमाम हुसैन की याद में मुस्लिम मातम मनाते हैं. ऐसा माना जाता है कि इस महीने की 10 तारीख को इमाम हुसैन की शहादत हुई थी, जिसकी वजह से इस दिन को रोज-ए-आशुरा (Roz-e-Ashura) भी कहा जाता है. इस्लाम में मुहर्रम का यह सबसे अहम दिन माना गया है. इस दिन जुलूस निकालकर हुसैन की शहादत को याद किया जाता है.

First Published: Sep 10, 2019 07:55:44 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो