BREAKING NEWS
  • RJD विधायक की भतीजी का बॉयफ्रेंड के साथ मिला शव, गोली मारकर की गई दोनों की हत्या- Read More »
  • मध्य प्रदेश की जनता को एक साथ दोहरी मार! शराब और पेट्रोल-डीजल हुआ महंगा- Read More »
  • बड़ी खबर: कांग्रेस ने Supriya Shrinate को नियुक्त किया प्रवक्ता- Read More »

महिला उद्यमियों के लिए बेहतर माहौल देने में भारत के ये शहर आगे

ANI  |   Updated On : July 29, 2019 03:19:16 PM
प्रतिकात्‍मक चित्र

प्रतिकात्‍मक चित्र

नई दिल्‍ली:  

हाल के वर्षों में कार्यस्‍थल को महिलाओं के मुफीद बनाने में अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर हुए पहल के परिणाम सामने आने लगे हैं. इस मामले में जहां पश्‍चिमी देशों ने बेहतर किया है वहीं एशियाई देशों का प्रदर्शन संतोषजनक नहीं है. महिला उद्यमियों के लिए बेहतर माहौल देने के मामले में एशियाई देशों में सिंगापुर टॉप पर है वहीं भारत के दो शहर इस सूची में अपनी जगह बनाने में सफल रहे. इस महीने Dell Women Entrepreneur Cities Index  की जारी लिस्‍ट में दिल्‍ली और बेंगलुरु दुनिया भर के शहरों में 50वें और 43वें स्‍थान पर हैं, जबकि एशियाई शहरों की सूची में दिल्‍ली 10वें और बेंगलुरु 7वें पोजीशन पर है.

चिंता की बात ये है कि टॉप 20 में एशिया का कोई शहर नहीं है. सिंगापुर 21वें नंबर पर रहने वाला एशिया का एकमात्र शहर है. सबसे ज्‍यदा शहर उत्‍तरी अमेरिका के हैं, इसके बाद नंबर आता है लैटिन अमेरिका व उत्‍तर-पूर्व के शहरों का. Dell द्वारा प्रायोजित और लंदन के ग्‍लोबल इन्‍फार्मेशन उपलब्‍ध कराने वाली कंपनी IHS Makit ने न्‍यूयार्क को पहला स्‍थान दिया है.

यह भी पढ़ेंःउत्तर प्रदेश के इस शहर में जल्द खुलेगा RSS का पहला आर्मी स्कूल, ऐसे मिलेगा एडमिशन

Dell Women Entrepreneur Cities Index ने इस लिस्‍ट को क्षमतावान महिला उद्यमियों को सपोर्ट करने वाले शहरों को शामिल किया है. 50 ऐसे शहरों को चुना गया है जो इनोवेशन हब बनने की राह पर हैं. इस सूचकांक को बाजार, प्रतिभा, कैपिटल, संस्‍कृति और तकनीकी को आधार बनाकर तैयार किया है. इसके अलावा पर्यावरण पर 2 और 4 वेटिंग कैटेगरी भी है.

सुधर रही है दिल्‍ली
बहुत से शहर इस रैंकिंग में ऐसे हैं जो लगातार सुधार कर रहे हैं. तेजी से सुधार की तरफ बढ़ रहे शहरों की ग्‍लोबल रैंकिंग में भारत 26वें पोजीशन पर है. नीचे से टॉप 10 शहर ऐसे हैं बाजार, पूंजी और प्रतिभा जैसे सूचकांक पर निरंतर सुधार कर रहे हैं पर संस्‍कृति और तकनीक के क्षेत्र में पिछड़ रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः स्‍विस होटल ने भारतीयों को कायदे से रहने की दी नसीहत, जारी की आचार संहिता

कारपोरेट घरानों के बोर्ड में महिलाओं के प्रतिनित्‍व के मामले में नीचे के 10 शहरों में सुधार देखा गया. इस मामले में 50 में से 37 शहरों की महिलाओं की दशा में सुधार हुआ है. इस मामले सबसे अच्‍छा रिकॉर्ड पेरिस का है, जहां किसी भी कारपोरेट घराने की बोर्ड में महिलाओं की संख्‍या 40 फीसद रखने का आदेश है.

First Published: Jul 29, 2019 03:19:16 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो