92,000 करोड़ रुपये का सोना भारत में आया, ड्यूटी बढ़ाने का भी नहीं पड़ा असर

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 21, 2019 10:59:21 AM
सोने के इंपोर्ट (Gold Import) में 15.4 फीसदी की बढ़ोतरी

सोने के इंपोर्ट (Gold Import) में 15.4 फीसदी की बढ़ोतरी (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  चालू वित्त वर्ष की अप्रैल से जुलाई अवधि के दौरान देश का सोने का इंपोर्ट 15.4 फीसदी बढ़ा
  •  अप्रैल-जुलाई के दौरान 13.16 अरब डॉलर (करीब 92,000 करोड़ रुपये) मूल्य के सोने का इंपोर्ट
  •  2018-19 में अप्रैल-जुलाई के दौरान इंपोर्ट 11.41 अरब डॉलर (करीब 80,000 करोड़ रुपये) का हुआ था

नई दिल्ली:  

Gold Import: चालू वित्त वर्ष की अप्रैल से जुलाई अवधि के दौरान देश का सोने का इंपोर्ट 15.4 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 13.16 अरब डॉलर (करीब 92,000 करोड़ रुपये) हो गया है. वाणिज्य मंत्रालय (Commerce Ministry) के ताजा आंकड़ों से ये जानकारी मिली है. मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 2018-19 में अप्रैल से जुलाई के दौरान सोने का इंपोर्ट 11.41 अरब डॉलर (करीब 80,000 करोड़ रुपये) का हुआ था. बता दें कि आम बजट (Union Budget) 2019-20 में सोने एवं अन्य बहूमूल्य धातुओं पर आयात शुल्क (Import Duty) को 10 फीसदी से बढ़ाकर 12.5 फीसदी किया गया था.

यह भी पढ़ें: आर्थिक मंदी (Economic Slowdown) का संकट गहराया, कई सेक्टर्स से हजारों लोगों की गई नौकरियां

अप्रैल-जून में गोल्ड इंपोर्ट में 35.5 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी
देश का सोना आयात (Gold Import) चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 35.5 फीसदी बढ़कर 11.45 अरब डॉलर (करीब 80,000 करोड़ रुपये) हो गया है. 2018-19 की इसी अवधि में 8.45 अरब डॉलर (करीब 59,000 करोड़ रुपये) का सोना आयात किया गया था. बता दें कि सोने का इंपोर्ट बढ़ने से देश के चालू खाते के घाटे (CAD) पर सीधा असर होता है.

यह भी पढ़ें: Gold Price Today 21 Aug: सोने-चांदी में जोरदार तेजी के संकेत, जानें बेहतरीन ट्रेडिंग कॉल्स

बता दें कि राजस्व सचिव अजय भुषण पांडे पहले ही सोने के इंपोर्ट पर बढ़ाई गई ड्यूटी को वापस नहीं लेने की बात कह चुके हैं. अजय भुषण पांडे ने कहा था कि आम बजट में सोने और अन्य बहुमूल्य धातुओं पर शुल्क वृद्धि का निर्णय सरकार की अनावश्यक उत्पादों का आयात कम करने की नीति के तहत किया गया है. रही बात तस्करी की, तो कानून अनुपालन एजेंसिया इससे निपट लेंगी. अजय भुषण पांडे ने कहा था कि आर्थिक निर्णय संपूर्ण आर्थिक वास्तविकताओं को ध्यान में रखकर लिए जाते हैं, ना कि इस इरादे से कि किसी की मंशा इसका दुरुपयोग करने की है. आम बजट 2019-20 में सोने एवं अन्य बहूमूल्य धातुओं पर आयात शुल्क को 10 फीसदी से बढ़ाकर 12.5 फीसदी किया गया था.

यह भी पढ़ें: ऑटो के बाद अब कताई उद्योग (Spinning Industry) से आ रही बुरी खबर, हजारों Jobs पर खतरा

चालू खाता घाटा बढ़कर GDP का 2.1 फीसदी हुआ
चालू खाते का घाटा 2018-19 में बढ़कर सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के 2.1 फीसदी यानि 57.2 अरब डॉलर हो गया है. 2017-18 में यह जीडीपी के 1.8 फीसदी (48.7 अरब डॉलर) पर था. सोने के आयात में बढ़ोतरी से देश का व्यापार घाटा भी 2019-20 की अप्रैल - जून तिमाही में मामूली बढ़कर 45.96 अरब डॉलर पर पहुंच गया. पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में व्यापार घाटा 44.94 अरब डॉलर था. इस साल फरवरी को छोड़कर शेष महीनों में स्वर्ण आयात में दहाई अंक की वृद्धि दर्ज की गई है.

First Published: Aug 21, 2019 10:59:21 AM
Post Comment (+)

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो