BREAKING NEWS
  • IND vs SA: टीम इंडिया के लिए 'निर्दयी' रहा है बेंगलुरू का चिन्नास्वामी स्टेडियम, देखें आंकड़े- Read More »

Gold News: ज्वैलरी को छोड़ भारतीयों को भाया नए जमाने का सोना, निवेश कर कमाएं मोटा मुनाफा

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 12, 2019 03:49:32 PM
Gold Silver Rate Today: गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF)

Gold Silver Rate Today: गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF)

नई दिल्ली:  

Gold Silver Rate Today: गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF) (एक्सचेंज ट्रेडेट फंड-Exchange Traded Funds) में अगस्त में 145 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश हुआ है. यह 9 महीने में पहली बार है, जब गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF) में इतना निवेश देखा गया है. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी और सोने की कीमतों में तेजी के बीच गोल्ड ईटीएफ में निवेश बढ़ गया है. निवेशक इसे निवेश का सुरक्षित विकल्प मान रहे हैं. दिसंबर 2012 के बाद यह गोल्ड ईटीएफ में यह सबसे ऊंचा निवेश है. उस साल ईटीएफ में 474 करोड़ रुपये का निवेश हुआ था.

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना (PMJAY): कैंसर के इलाज के लिए उठाया ये बड़ा कदम

जुलाई में गोल्ड ईटीएफ से 17.66 करोड़ रुपये की निकासी
गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF) में मासिक के साथ-साथ सालाना आधार पर भी बढ़ोतरी देखी गई है. जुलाई में गोल्ड (Today Gold News) ईटीएफ से 17.66 करोड़ रुपये की निकासी हुई थी, जबकि अगस्त 2018 में 45 करोड़ रुपये की निकासी हुई थी. एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार पिछले महीने गोल्ड ईटीएफ में 145.29 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश हुआ था. पिछले साल नवंबर के बाद गोल्ड ईटीएफ में निवेश हुआ है.

यह भी पढ़ें: PM मोदी आज करेंगे किसान मानधन स्कीम (Pradhan Mantri Kisaan Maandhan Yojana) की शुरुआत, जानें अन्य छप्परफाड़ योजनाएं

गोल्ड ईटीएफ में अक्टूबर 2016 में 20 करोड़ रुपये का निवेश
गोल्ड ईटीएफ में अक्टूबर 2016 में 20 करोड़ रुपये और मई 2013 में पांच करोड़ रुपये का निवेश हुआ था. नवीनतम निवेश (Investment) से अगस्त के अंत तक गोल्ड ईटीएफ के प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियां 5,799 करोड़ रुपये हो गई. जुलाई के अंत तक यह 5,080 करोड़ रुपये थीं.

यह भी पढ़ें: Good News: होम इंश्योरेंस (Home Insurance) के जरिए करें अपने सपनों के घर की सिक्योरिटी

एक्सपर्ट्स के मुताबिक कई महीनों में पहली बार है जब गोल्ड ईटीएफ में लिवाली देखी गयी है. इसकी वजह सोने की कीमतों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर तेजी और रुपये का कमजोर पड़ना है. इसके चलते निवेशकों के बीच निवेश के सुरक्षित विकल्प के रूप में सोने का आकर्षण बढ़ गया है. विशेषज्ञों का कहना है कि देश में सोने की कीमतों में तेजी की वजह से निवेशक गोल्ड ईटीएफ में और निवेश कर सकते हैं. अगस्त के अंत में सोने की कीमत 40,000 रुपये प्रति दस ग्राम के उच्च स्तर तक पहुंच गयी थी. (इनपुट पीटीआई)

First Published: Sep 12, 2019 12:48:26 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो