प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा शुरू की गई इन 10 योजनाओं के बारे में आपको जरूर जानना चाहिए

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 17, 2019 03:58:43 PM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) - फाइल फोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) - फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

#HappyBirthdayPM: 17 सितंबर 2019 को पीएम नरेंद्र मोदी का 69वां जन्‍मदिन (PM Narendra Modi's Birth Day) है. 17 सितंबर ही के दिन सन् 1950 में उनका जन्म गुजरात के वडनगर में हुआ था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के जन्मदिन के मौके पर इस रिपोर्ट में उनके द्वारा शुरू की गई योजनाओं के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे. नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल में कई महत्वपूर्ण योजनाओं को शुरू किया है जिसका आमजनजीवन पर काफी असर पड़ा है.

यह भी पढ़ें: आर्थिक मंदी (Economic Slowdown) से लड़ने में कितना कारगर है Debt Mutual Fund, जानें यहां

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY): समय से पहले पूरा हो गया 8 करोड़ कनेक्शन का लक्ष्य
Pradhan Mantri Ujjwala Yojana-PMUY: उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ मुफ्त एलपीजी (LPG) गैस कनेक्शन देने का लक्ष्य (Target) सरकार निर्धारित समय से 7 महीने पहले पूरा करने जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज 8 करोड़ वां कनेक्शन लाभार्थी को सौपेंगे. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY) को 1 मई 2016 को लॉन्च किया गया गया था. उस समय 5 करोड़ परिवारों के महिला सदस्यों के नाम मार्च 2019 तक कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया था. बाद में टारगेट को बड़ा करते हुए मार्च 2020 तक 8 करोड़ कनेक्शन बांटने का दावा किया गया.

यह भी पढ़ें: एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) ने 15 दिन के भीतर दूसरी बार फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) को लेकर किया बड़ा फैसला

प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना (PMBJP)
प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना (Pradhan Mantri Bhartiya Janaushadhi Pariyojana-PMBJP): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 2015 में जनऔषधि परियोजना की शुरुआत की थी. इस योजना के जरिए सरकार की आम लोगों तक सस्ती दवाओं को पहुंचाना चाहती है. सरकार के जन औषधि केंद्रों (Jan Aushadhi Kendra) पर आम लोगों को जेनरिक दवाएं 90 फीसदी तक सस्ती मिलती हैं. दरअसल, सरकार जेनरिक दवाओं को बढ़ावा देना चाहती है और इसी के तहत जन औषधि केंद्रों को खोलने के लिए अवसर भी मुहैया करा रही है.

यह भी पढ़ें: फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) से घट गई कमाई, कोई बात नहीं यहां मिल रहा ज्यादा रिटर्न

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM-KMY): किसानों को मिलेगी 3 हजार रुपये पेंशन
प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के तहत किसानों को पेंशन दिया जाता है. योजना के तहत किसानों को 60 वर्ष की आयु के बाद 3 हजार रुपये पेंशन देने का प्रावधान है. सरकार की इस योजना के तहत फंड का प्रबंधन LIC करेगा. मानधन योजना के तहत इसके लॉन्च होने से पहले ज्यादा से ज्यादा किसानों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है. बता दें कि सरकार ने इस योजना के लिए करीब 10,000 कॉमन सेंटर को भी शुरू किया है. मोदी सरकार इस योजना के जरिए 5 करोड़ किसानों को लाभ पहुंचाना चाहती है. सरकार ने 3 साल में 5 करोड़ लघु और सीमांत किसानों को जोड़ने का लक्ष्य बनाया है.

यह भी पढ़ें: Good News: होम इंश्योरेंस (Home Insurance) के जरिए करें अपने सपनों के घर की सिक्योरिटी

प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना (PM-Kisan): 14.5 करोड़ किसानों को मिलेंगे सालाना 6 हजार रुपये
पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत करीब 14.5 करोड़ किसानों को फायदा मिलने जा रहा है. इस योजना अभी तक सिर्फ 12 करोड़ किसान थे, जिसे बढ़ाकर 14.5 करोड़ कर दिया है. इस योजना के अंतर्गत साल में तीन बार कुल 6 हजार रुपये अकाउंट में मिलेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने 24 फरवरी को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से इसकी शुरुआत की थी. हालांकि योजना के तहत शर्त थी कि जिन किसानों के पास 2 हेक्टेयर यानि करीब 5 एकड़ तक जमीन है उन्हें ही इस योजना का फायदा मिलेगा.

यह भी पढ़ें: Retirement Planning: तनावमुक्त रिटायरमेंट के लिए इन बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी

सम्मान निधि योजना को सकारात्मक रुझान मिलने से भारतीय जनता पार्टी ने संकल्प पत्र में इसका दायरा बढ़ाने का वादा किया था. प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना सृजित करके किसानों को 6 हजार रुपये देने की घोषणा की गई थी. PM Kisan Samman Nidhi Yojana में 8 करोड़ किसानों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है और पात्र 6.25 करोड़ किसानों को पहली और 3.81 करोड़ किसानों को दूसरी किस्त मिल चुकी है.

यह भी पढ़ें: 7th Pay Commission: इस राज्य के कर्मचारियों को हुआ बड़ा फायदा, अक्टूबर से मिलेगी बढ़ी सैलरी

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY)  
हर साल प्राकृतिक आपदा की वजह से किसानों को जान मान का काफी नुकसान होता है. बाढ़, आंधी, ओला और बारिश से फसल खराब हो जाती है. इन्हीं सब परिस्थितियों से बचने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) शुरू की है. सरकार ने इस योजना को 13 जनवरी 2016 को शुरू किया था. इस बीमा के तहत किसानों को खरीफ फसल के लिए 2 फीसदी प्रीमियम और रबी की फसल के लिए 1.5 फीसदी प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है.

यह भी पढ़ें: बुढ़ापे की लाठी है केंद्र सरकार की रिवर्स मॉर्गेज लोन (Reverse Mortgage Loan) स्कीम

परंपरागत कृषि विकास योजना (Paramparagat Krishi Vikas Yojana)
परंपरागत कृषि विकास योजना (Paramparagat Krishi Vikas Yojana) के तहत मोदी सरकार किसानों की आय बढ़ाने की कोशिश में है. वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमन ने अपने पहले बजट में ‘जीरो बजट’ खेती (Zero Budget Farming) का ऐलान किया था. इस योजना के तहत किसानों को बीज, खाद-पानी आदि के इंतजाम में अधिक मेहनत करनी पड़ेगी और लागत काफी कम होगा. लागत कम होने के साथ मुनाफा अधिक होता है.

यह भी पढ़ें: Good News: इंडियन रेलवे (Indian Railway) के इन अधिकारियों की लग गई लॉटरी, मानदेय हुआ दोगुना

आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana Online Registration)
केंद्र सरकार (government) ने आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) के बारे में पूरी जानकारी देने के लिए आयुष्मान भारत योजना ऑनलाइन पंजीकरण (registration) वेबसाइट लॉन्च (Ayushman Bharat Yojana Online Registration) की है. इस वेबसाइट (Ayushman Bharat scheme website) पर आप योजना से जुडी विभिन्न सुविधाओं जैसे लाभार्थी विवरण (Ayushman Bharat Yojana full information), अपना नाम आयुष्मान भारत योजना लाभार्थी सूची आदि का लाभ ऑनलाइन ले सकते हैं. इसके लिए mera.pmjay.gov.in साइट पर जा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: EPFO: प्रॉविडेंट फंड (PF) का पैसा शेयर मार्केट में निवेश कर पाएंगे कर्मचारी

आयुष्मान योजना (Ayushman Bharat Yojana) की विशेषताएं (Features)

  • इस योजना के तहत सभी योग्य लाभार्थियों को 5 लाख रुपये का फ्री बीमा मिलता है (free insurance)
  • मरीज के अस्‍पताल (hospitalization) में भर्ती होने से पहले का खर्च और हस्पताल से डिसचार्ज (expenses) होने के बाद का खर्च भी सरकार द्वारा किया जाएगा
  • इस योजना से 15,291 अस्पतालों (hospitals) जोड़े जा चुके हैं
  • इस योजना के तहत अस्पतालों में मिलने वाली सुविधाओं में भी बढ़ोतरी की जाएगी
  • इस योजना के तहत केंद्र सरकार ने टीबी मरीजों (TB patients) के लिए जरूरतमंद सामग्रियों के लिए 600 करोड़ भी आवंटित किए हैं
  • इस योजना के तहत, कोई भी सरकारी और निजी अस्पतालों दोनों में इलाज (Treatment) का लाभ उठा सकता है.

यह भी पढ़ें: 7th Pay Commission: इस राज्य के कर्मचारियों को हुआ बड़ा फायदा, अक्टूबर से मिलेगी बढ़ी सैलरी

प्रधानमंत्री जन धन योजना - Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana
प्रधानमंत्री जन धन योजना बैंकिंग सुविधाओं से वंचित लोगों को अपना बैंक खाता खोलने, डेबिट कार्ड प्राप्त करने और बीमा एवं पेंशन जैसी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं तक अपनी पहुंच बनाने में काफी मददगार साबित हुई.

यह भी पढ़ें: सातवां वेतन आयोग (7th Pay Commission): अब यहां महंगाई भत्ते (Dearness Allowance) को लेकर हुआ ये बड़ा फैसला

प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना (PMMVY)
प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana): केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि इस योजना से करीब 50 लाख गर्भवती महिलाओं को लाभ मिल चुका है. बता दें कि मातृ वंदन योजना वर्ष 2017 में शुरू की गई थी.

यह भी पढ़ें: सिर्फ 10 सेकेंड में आपके मोबाइल पर आ जाएगी प्रॉविडेंट फंड (PF) की सारी जानकारी

प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना (PMLVMY)
प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना (Pradhan Mantri Laghu Vyapaari Mann-Dhan Yojana): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार दुकानदारों, खुदरा विक्रेताओं और खुद का कारोबार करने वालों के लिए पेंशन योजना को मंजूरी दे दी. इस पेंशन योजना के तहत खुदरा विक्रेताओं और दुकानदारों को 60 साल की उम्र होने के बाद न्यूनतम 3,000 रुपये मासिक पेंशन दी जाएगी.

First Published: Sep 17, 2019 03:56:36 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो