BREAKING NEWS
  • नौकरी दिलाने के नाम पर बुलाया और 6 लोगों ने मिलकर बनाया हवश का शिकार- Read More »
  • Horoscope, 15 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 15 नवंबर का राशिफल- Read More »
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »

मार्च में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 2.86 फीसदी पर पहुंची, पिछले साल के मुकाबले आई कमी

IANS  |   Updated On : April 12, 2019 10:57:02 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

खाद्य वस्तुओं की कीमतें ऊंची होने के कारण इस साल खुदरा महंगाई दर फरवरी के 2.57 फीसदी से बढ़कर मार्च में 2.86 फीसदी हो गई. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा शुक्रवार को जारी आंकड़े के अनुसार, उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) मार्च में फरवरी के नकारात्मक 0.73 फीसदी के मुकाबले बढ़कर 0.3 फीसदी हो गया. हालांकि सालाना आधार पर उपभोक्ता मूल्य सूचकांक मार्च में (2.86 फीसदी) पिछले साल के मुकाबले कम है. पिछले साल मार्च में खुदरा महंगाई दर 4.81 फीसदी थी. इससे पहले फरवरी महीने में खुदरा महंगाई दर में कमी आई थी. 

खाद्य पदार्थों की कीमतें कम होने की वजह से फरवरी 2019 में खुदरा महंगाई दर, पिछले वर्ष की समान अवधि के 4.44 फीसदी से घटकर 2.57 प्रतिशत हो गई है. इससे पहले सबसे निचला महंगाई दर जून 2017 में 1.46 फीसदी था. गौरतलब है कि भारतीय रिजर्व बैंक अपनी मौद्रिक नीति तय करने के लिए खुदरा मुद्रास्फीति के आंकड़ों का ही इस्तेमाल करता है. वहीं थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति दिसंबर में 8 महीने के निचले स्तर पर जाकर 3.80 फीसदी रही. इसकी अहम वजह ईंधन और खाद्य पदार्थों की कीमतें कम होना है. नवंबर में थोक मुद्रास्फीति 4.64 फीसदी थी जबकि दिसंबर 2017 में यह 3.58 फीसदी थी.

सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों के अनुसार दिसंबर में खाद्य पदार्थों में 0.07 फीसदी महंगाई घटी है जबकि नवंबर में इसमें अवस्फीति 3.31 फीसदी थी. इसी तरह सब्जियों में भी अवस्फीति देखी गई. दिसंबर में यह 17.55 फीसदी रही, हालांकि नवंबर में यह 26.98 फीसदी थी.

ईंधन और ऊर्जा क्षेत्र में दिसंबर में मुद्रास्फीति घटकर 8.38 फीसदी रही जो नवंबर की 16.28 फीसदी मुद्रास्फीति के मुकाबले लगभग आधी है. इसकी अहम वजह दिसंबर में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी आना है.

दिसंबर में पेट्रोल कीमतों की मुद्रास्फीति 1.57 फीसदी और डीजल कीमतों की 8.61 फीसदी रही है. वही एलपीजी में यह 6.87 फीसदी रही. 

खाद्य वस्तुओं में पिछले महीने के मुकाबले आलू दिसंबर में सस्ते हुए. दिसंबर में आलू कीमतों में मुद्रास्फीति की दर 48.68 फीसदी रही जो नवंबर में 86.45 फीसदी थी. प्याज कीमतों में दिसंबर में 63.83 फीसदी अवस्फीति दर्ज की गई जो नवंबर में 47.60 फीसदी थी.

दालों में मुद्रास्फीति की दर 2.11 फीसदी रही, वहीं अंडा, मांस और मछली में यह दर 4.55 फीसदी रही. दिसंबर की 3.80 फीसदी की मुद्रास्फीति दर पिछले आठ महीनों में सबसे कम है. इससे पहले अप्रैल में यह 3.62 फीसदी पहुंची थी.

First Published: Apr 12, 2019 10:56:59 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो