BREAKING NEWS
  • विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बने अमित- Read More »
  • 17 साल के लड़के ने 60 साल की बुजुर्ग महिला को बनाया हवस का शिकार, मामला जान थर्रा जाएगी रूह- Read More »

Railways ने इन ट्रेनों का घटाया किराया, Airlines से मुकाबले की तैयारी

News State Bureau  |   Updated On : November 01, 2018 11:38:26 AM
Indian Railways

Indian Railways

नई दिल्‍ली:  

Airlines से मुकाबला करने के मकसद से Railways ने कुछ ट्रेनों में फ्लेक्सी फेयर योजनाओं (Flexi Fare scheme) को हटाने और अन्य में छूट पेश कर यात्रियों को लुभाने की योजना बनाई है. यह कदम त्योहारी सीजन की शुरुआत से ठीक पहले उठाया गया है, जब एयरालाइनें छूट की योजनाओं से भरी पड़ी हैं. रेलवे ने 15 ट्रेनों में फ्लेक्सी फेयर योजना को वापस ले लिया है.

कई ट्रेनों में लागू की थी फ्लेक्सी फेयर योजना

रेलवे ने नौ सितंबर को राजधानी की 44, दुरंतो की 52 और शताब्दी एक्सप्रेस की 46 प्रीमियम ट्रेनों के लिए फ्लेक्सी फेयर योजना पेश की थी. रेलवे ने वर्तमान फ्लेक्सी-फेयर ट्रेनों की सभी श्रेणियों के किराए में भारी छूट की योजना बनाई है. सीटों की संख्या बढ़ने पर फ्लेक्सी फेयर में टिकटों के दाम बढ़ जाते हैं. रेलवे 70 फीसदी भरी सीटों वाली प्रीमियम ट्रेन के किराए में 20 फीसदी तक की छूट देगी, जबकि 70 से 80 फीसदी बुक सीटों वाली ट्रेनों के किराए में 10 फीसदी की छूट दी जाएगी. हालांकि 80 फीसदी से ज्यादा भरी सीटों वाली प्रीमियम ट्रेनों के किराए में कोई छूट नहीं दी जाएगी.

और पढ़ें : गिरावट में भी बेस्‍ट है Mutual Funds में निवेश, तैयार हो गया 20 लाख का फंड

15 ट्रेनों में खतम की फ्लेक्सी फेयर योजना

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, इस योजना को 15 ट्रेनों में बंद कर दिया गया है, जहां साल भर औसतन एक तरफा मासिक सीटें 50 फीसदी से कम भरती हैं. नाम न छापने की शर्त पर अधिकारी ने बुधवार को बताया, "इस फैसले के बाद किराए में कमी होने से 15 फीसदी तक सीटें भरेंगी."
यह फैसला इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह रेलवे को अधिक यात्रियों को लुभाने में मदद करेगा, जो अन्य परिवहन साधनों की ओर रुख कर चुके हैं विशेषकर विमानन क्षेत्र की ओर.

और पढ़ें : दिवाली पर ले रहे हैं घर या फ्लैट, जानें कौन से बैंक का home loan पड़ेगा सस्‍ता

100 ट्रेनों में जारी रहेगी योजना

इसके अतिरिक्त, फ्लेक्सी फेयर योजना उन 100 ट्रेनों में जारी रहेगी, जिसमें सालभर 75 फीसदी से ज्यादा एकतरफा मासिक सीटें भरी रही हैं. अधिकारी ने कहा कि यह बदलाव छह महीनों के प्रायोगिक आधार पर किए गए हैं. उन्होंने कहा कि इसके नतीजों के आंकलन के बाद फैसले को जारी रखने के बारे में सोचा जाएगा. 

First Published: Nov 01, 2018 11:38:17 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो