BREAKING NEWS
  • Horoscope, 17 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 17 नवंबर का राशिफल- Read More »
  • Jharkhand Poll: चुनाव जीतने के लिए बीजेपी ने बनाई खास रणनीति, उतारी 'बिहारी टीम'- Read More »
  • बिहार-झारखंड की ताज़ा खबरें, 17 नवंबर 2019 की बड़ी ब्रेकिंग न्यूज़- Read More »

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने ऑटो सेक्टर को दी बड़ी राहत, लिया ये बड़ा फैसला

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 17, 2019 04:45:33 PM
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman)- फाइल फोटो

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman)- फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने ऑटो सेक्टर (Auto Sector) को आर्थिक मंदी (Economy Slowdown) से राहत देने के लिए बड़ा फैसला लिया है. दरअसल, मोदी सरकार के ताजा फैसले के बाद सरकारी विभाग अब नए वाहनों की खरीद कर सकेंगे. केंद्र सरकार ने गाड़ियों की खरीदारी पर लगी रोक को हटा दिया है. गौरतलब है कि वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने पिछले महीने ऑटो सेक्टर में फैली मंदी से निपटने के लिए कई ऐलान किए थे.

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा शुरू की गई इन 10 योजनाओं के बारे में आपको जरूर जानना चाहिए

सरकारी विभाग अब नए वाहन खरीद सकेंगे
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वित्त मंत्री ने कहा था मार्च 2020 तक खरीदे गए BS-4 वाहनों को अब उनकी पंजीकरण की पूरी अवधि तक चलाया जा सकता है. मोदी सरकार के फैसले के बाद विभागों द्वारा पुराने वाहनों के बदले नए वाहनों की खरीद पर लगी रोक हट गई है. वित्त मंत्री ने कहा था कि सरकार नई स्क्रैपेज पॉलिसी लाने पर भी विचार कर रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र सरकार 10 साल पुराने व्यवसायिक वाहनों की बिक्री पर 50 हजार रुपये और पैंसेंजर कार की बिक्री पर 20 हजार रुपये की छूट देने की घोषणा कर सकती है.

यह भी पढ़ें: रिलायंस जियो (Reliance Jio), एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया में किसका है सबसे तेज इंटरनेट, ये है लेटेस्ट Data

बता दें कि वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमन ने जीएसटी रिफंड (GST Refund), बैंकों को 70 हजार रुपये की आर्थिक सहायता (Economic Aid), ऑटो इंडस्ट्री (Auto Industry) को राहत देने जैसे कई अहम घोषणाएं कर चुकी है. वित्त मंत्री ने फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स (एफपीआई Foreign Portfolio Investors) तथा घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) पर बढ़े सरचार्ज को भी वापस लेने का ऐलान किया है, ताकि शेयर बाजार (Share Market) की स्थिति मजबूत की जा सके.

First Published: Sep 17, 2019 04:45:33 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो