GDP में गिरावट के बाद भी कंगाल पाकिस्तान से आगे है भारत, आर्थिक सर्वे में हुआ खुलासा

News State Bureau  |   Updated On : June 16, 2019 06:35:06 AM
GDP में गिरावट के बाद भी कंगाल पाकिस्तान से आगे है भारत

GDP में गिरावट के बाद भी कंगाल पाकिस्तान से आगे है भारत (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान में इमरान सरकार की तरफ से पहला पूर्णकालिक बजट पेश कर दिया गया है. मंगलवार को पाक के वित्त राज्य मंत्री हमाद अजहर ने पाकिस्तान तहरीर-ए-इंसाफ (पीटीआई) की ओर से 6 लाख करोड़ (6 ट्रिलियन) का सालाना बजट पेश किया है. जिसमें करीब 3.56 लाख करोड़ के बजट का घाटा बताया जा रहा है. दरअसल, पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था इन दिनों भारी-भरकम संकट से जूझ रही है. साल 2018-19 आर्थिक सर्वे के मुताबिक पाकिस्तान की जीडीपी मात्र 3.3 फीसदी की दर से आगे बढ़ रही है. ये दर बीते 9 सालों का सबसे ज्यादा न्यूनतम स्तर है.

और पढ़ें: पाकिस्तान के PM इमरान खान ने SCO Summit में की बड़ी गलती, Social Media पर हुए ट्रोल

वहीं भारत की बात करें तो यहां की जीडीपी की वृद्धि दर में भी गिरावट दर्ज की गई है. साल 2018-19 में भारत की जीडीपी 6.8 फीसदी है, जो कि पिछले पांच साल का सबसे निचला स्तार बताया जा रहा है. लेकिन जीडीपी में गिरावट के बाद भी पाकिस्तान के मुकाबले भारत की अर्थव्यवस्था काफी आगे और बेहतर है. भारत की अर्थव्यवस्था करीब 9 गुना बड़ी है.

दूसरी तरफ विदेशी मुद्रा भंडार में की बात करें ते यहां भी भारत ने पाकिस्तान को पछाड़ा है. भारत की विदेशी मुद्रा भंडार 420 बिलियन और पाक का सिर्फ 17.4 बिलियन डॉलर है.

ये भी पढ़ें: SCO Summit में आखिरकार आमने-सामने आए पीएम मोदी और पाक के पीएम इमरान खान, जानें फिर क्या हुआ

इस समय पाकिस्तान की वित्तीय हालात काफी कमजोर चल रही है, जिस वजह से उन्हें भारी आर्थिक संकट से जूझना पड़ रहा है. पाक के लिए महंगाई और बेरोजगाी जैसे मुद्दों से निपटना एक चुनौती जैसा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान पर इस समय कर्ज का इतना बोझ है कि बजट का 42 फीसदी हिस्सा केवल ब्याज चुकाने में खर्च हो जाएगा. वहीं भारत अपने बजट में से सिर्फ 18 फीसती ही कर्ज चुकाने में करता है.

पाकिस्तान का सबसे ज्यादा खर्च रक्षा क्षेत्र (17 फीसदी) पर होता है. जबकि भारत अपने कुल बजट का मात्र 8 फीसदी ही रक्षा पर खर्च करता है. हालांकि तब भी भारत का रक्षा बजट पाक से करीब 6 गुना ज्यादा बताया जाता है.

और पढ़ें: कंगाल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने फिर अलापा कश्मीर राग, कह दी ये बड़ी बात

बता दें कि वित्त वर्ष (2019-20) के लिए पाक का रक्षा बजट पिछले साल की तरह ही 1150 अरब रुपये का होगा. देश के वित्तीय संकट के समाधान के लिए सरकार ने मितव्ययिता अभियान चलाया है. पाकिस्तान की सेना ने इस महीने की शुरुआत में अगले वित्त वर्ष के लिए स्वेच्छा से रक्षा बजट में कटौती का निर्णय किया था और देश को आश्वस्त किया था कि रक्षा बजट में कटौती से इसकी 'जवाबी क्षमता' पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

राजस्व मंत्री हम्माद अजहर ने मंगलवार को संसद में 2019- 20 के लिए मितव्ययिता बजट पेश किया था .सरकार ने 2019- 20 के लिए 7022 अरब डॉलर का बजट पेश किया और विकास दर का लक्ष्य चार फीसदी रखा है. उन्होंने कहा, 'रक्षा बजट पिछले वर्ष की तरह 1150 अरब रुपये का होगा.'

First Published: Jun 15, 2019 08:10:12 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो