मई में थोक महंगाई दर 22 महीने के निचले स्तर 2.45 फीसदी पर पहुंची

News State Bureau  |   Updated On : June 14, 2019 12:35:41 PM
मई के दौरान थोक महंगाई दर (WPI) घटी

मई के दौरान थोक महंगाई दर (WPI) घटी (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

महंगाई के मोर्चे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार के लिए एक बड़ी खबर आ रही है. मई के दौरान थोक महंगाई दर (WPI) 22 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई है. मई के दौरान थोक महंगाई दर 2.45 फीसदी दर्ज की गई है. मई में थोक महंगाई दर (WPI) 3.07 फीसदी से घटकर 2.45 फीसदी पर आ गई है. हालांकि खाद्य थोक महंगाई दर 4.95 फीसदी से बढ़कर 5.1 फीसदी हो गई है.

खुदरा महंगाई दर 7 महीने की ऊंचाई पर
मई में खुदरा महंगाई दर 3.05% रही, जो सात महीने का उच्च स्तर है. भारत के औद्योगिक उत्पादन में इस साल अप्रैल में 3.4 फीसदी की मासिक वृद्धि दर्ज की गई. सरकार द्वारा बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार मार्च 2019 में फैक्टरी उत्पादन वृद्धि दर 0.35 फीसदी थी. हालांकि खुदरा महंगाई दर केंद्रीय बैंक के लक्ष्य के दायरे में बरकरार है जिससे RBI के पास नीतिगत ब्याज दर में और कटौती करने की गुंजाइश बरकार है.

यह भी पढ़ें: शेयर बाजार में इंफोसिस (Infosys) के शानदार 26 साल पूरे, निवेशकों को किया मालामाल

बता दें कि केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (CSO) ने बुधवार को ये आंकड़े जारी किए थे. सब्जियों, मांस और मछली की कीमतों में बढ़ोतरी की वजह से उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI) पर आधारित रिटेल महंगाई दर में बढ़ोतरी देखने को मिली थी.

First Published: Jun 14, 2019 12:16:36 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो