वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण राहत पैकेज को लेकर कर सकती हैं बड़ा ऐलान, आज 1 बजे है प्रेस कॉन्फ्रेंस

News State Bureau  |   Updated On : March 26, 2020 01:18:16 PM
Nirmala Sitharaman

निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से उत्पन्न हुई स्थिति से निपटने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार कई बड़े फैसले ले रही है. वित्‍त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) आज दोपहर 1 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वित्त मंत्री कुछ सेक्टर्स के लिए राहत पैकेज का ऐलान कर सकती हैं.

इससे पहले, वित्त मंत्री ने कहा था कि पैकेज पर काम जारी है और इसकी घोषणा जल्द की जाएगी. उन्होंने कहा था कि आर्थिक पैकेज से इस संकट से पार पाने में मदद मिलेगी. सीतारणम ने कोरोना वायरस महामारी से निपटने को लेकर ‘लॉकडाउन’ के कारण उद्योग पर प्रतिकूल प्रभाव तथा नौकरियां जाने को लेकर प्रोत्साहन पैकेज की बात कही थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले सप्ताह वित्त मंत्री की अध्यक्षता में एक आर्थिक कार्यबल का गठन किया था. कार्यबल को कोरोना वायरस से प्रभावित अर्थव्यवस्था के लिये पैकेज पर काम करने की जिम्मेदारी सौंपी गयी गयी है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस का असर: मूडीज (Moody's) ने G-20 देशों में भारी आर्थिक मंदी का अनुमान जताया

1.5 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान कर सकती है सरकार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोदी सरकार 1.5 लाख करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान कर सकती है. आज होने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस में सबसे बड़ा ऐलान दिहाड़ी मजदूरों के लिए हो सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मोदी सरकार 1.5 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा कर सकती है. बताया जा रहा है की राहत पैकेज के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय, वित्त मंत्रालय और भारतीय रिजर्व बैंक के बीच बातचीत चल रही है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस : 1,50,00,00,00,00,000 रुपये का राहत पैकेज दे सकती है मोदी सरकार

एक वरिष्ठ अधिकारी ने तो यहाँ तक कहा कि राहत पैकेज 2.3 लाख करोड़ रुपये तक का भी हो सकता है. राहत पैकेज के इन पैसों को 10 करोड़ जनता के अकाउंट में सीधे ट्रांसफर करने की रणनीति पर काम चल रहा है. राहत पैकेज का दूसरा हिस्सा लॉकडाउन से सबसे ज्यादा प्रभावित कारोबार की मदद करने के लिए जारी किया जा सकता है. पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात 12 बजे से 21 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है. इसके बाद देश की 130 करोड़ आबादी अपने घर से नहीं निकल पा रही है. कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए यह दुनिया का सबसे लॉकडाउन है.

First Published: Mar 26, 2020 12:26:57 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो