BREAKING NEWS
  • छोटा राजन का भाई उतरा महाराष्ट्र के चुनावी रण में, इस पार्टी ने दिया टिकट - Read More »
  • IND vs SA, Live Cricket Score, 1st Test Day 1: भारत ने टॉस जीता पहले बल्‍लेबाजी- Read More »
  • Howdy Modi: पीएम मोदी Iron Man हैं, जानिए किसने कही ये बात- Read More »

CPAI के इंटरनेशनल सम्मेलन में होगी कमोडिटी मार्केट के विकास पर बड़ी चर्चा

News State Bureau  |   Updated On : July 12, 2019 01:33:04 PM
Commodity Participants Association of India-CPAI

Commodity Participants Association of India-CPAI (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

कमोडिटी पार्टिसिपेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (CPAI) राजधानी दिल्ली में अपने सातवें इंटरनेशनल सम्मेलन का आयोजन करने जा रहा है. सम्मेलन में 'रोजगार सृजन और सतत विकास लक्ष्यों के लिए भारतीय कमोडिटी बाजार का निर्माण' विषय पर चर्चा की जाएगी.

यह भी पढ़ें: ITR: इनकम टैक्स (Income Tax) बचाने के टॉप 5 Investment Tips

कमोडिटी मार्केट की चुनौतियों पर होगी चर्चा
कार्यक्रम के दौरान अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा के लिए संरचनात्मक सुधार और कमोडिटी मार्केट में होने वाली चुनौतियों का मुकाबला करने को लेकर चर्चा होगी. साथ ही कमोडिटी मार्केट का संस्थागतकरण, बिचौलियों के लिए नए अवसर, एग्रीकल्चर मार्केट के आधुनिकीकरण और हाजिर बाजार और डेरिवेटिव मार्केट को आपस में गठजोड़ को लेकर भी चर्चा की जाएगी.

यह भी पढ़ें: कौन से बैंक दे रहे हैं फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर सबसे ज्यादा ब्याज, देखें पूरी लिस्ट

Commodity Participants Association of India के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए मार्केट रेग्युलेटर्स, एक्सचेंज और सभी मार्केट पार्टिसिपेंट को आमंत्रित किया गया है.
कार्यक्रम में वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर, कैलाश चौधरी कृषि राज्य मंत्री और वित्त सचिव एवं सचिव (EA) सुभाष चंद्र गर्ग के आने की संभावना है. यह कार्यक्रम 13 जुलाई 2019 को होटल ली मेरिडियन, नई दिल्ली में आयोजित होगा.

यह भी पढ़ें: महारत्न, नवरत्न कपंनियों से छिनेगा पीएसयू (PSU) का टैग, जानें क्यों, पढ़ें पूरी खबर

बता दें कि कमोडिटी पार्टिसिपेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (CPAI) कमोडिटी बाजार के विकास के लिए काम करने वाला एकमात्र शीर्ष संगठन है. इसमें देश के बड़े ब्रोकरेज हाउस जुड़े हुए हैं. CPAI का उद्देश्य हाजिर बाजार (Spot Market) और वायदा बाजार (Future Market) के एकीकरण के बाद कमोडिटी डेरिवेटिव मार्केट के विकास के लिए भविष्य में काम करना है. इसके साथ ही CPAI का उद्देश्य जो भी कमोडिटी मार्केट के विकास के लिए काम कर रहा है उसे मान्यता प्रदान करना है.

First Published: Jul 12, 2019 01:29:32 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो