Budget 2020: ड्यूटी फ्री शॉप से सिर्फ इतनी बोतल शराब खरीद सकेंगे, मोदी सरकार ले सकती है बड़ा फैसला

Bhasha  |   Updated On : January 23, 2020 08:44:37 AM
ड्यूटी फ्री शॉप से सिर्फ इतनी बोतल शराब खरीद सकेंगे, मोदी सरकार ले सकती है बड़ा फैसला

शुल्क-मुक्त स्टोर (Duty Free Shop) (Photo Credit : फाइल फोटो )

दिल्ली:  

Budget 2020: हवाईअड्डों (Airports) पर स्थित शुल्क-मुक्त स्टोर (Duty Free Shop) से आने वाले दिनों में अधिकतम एक बोतल शराब ही खरीदी जा सकेगी. केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार गैर-आवश्यक वस्तुओं के आयात (Import) को कम करने के लिये यह सीमा लगाने पर विचार कर रही है. सूत्रों ने इसकी जानकारी दी है. सूत्रों के अनुसार वाणिज्य मंत्रालय ने एक फरवरी को पेश हो रहे आगामी आम बजट (Union Budget 2020-21) के मद्देनजर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को यह सुझाव दिया है.

यह भी पढ़ें: Budget 2020: आम आदमी को बजट समझाने के लिए मोदी सरकार की ये है योजना

एक कार्टन सिगरेट खरीदने की सुविधा भी बंद करने का सुझाव
वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) ने शुल्क-मुक्त स्टोर से एक कार्टन सिगरेट (One Carton Cigarette) खरीदने की सुविधा को भी बंद करने का सुझाव दिया है. अब तक जो व्यवस्था है उसके तहत विदेशों से आने वाले यात्री हवाईअड्डों पर स्थित इस तरह के शुल्क-मुक्त स्टोर से दो लीटर शराब और एक कार्टन सिगरेट खरीद सकते हैं. सूत्रों ने कहा कि कई देश अभी अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को अधिकतम एक लीटर शराब खरीदने की मंजूरी देते हैं और भारत भी इसे अपना सकता है. यह सुझाव ऐसे में अहम हो जाता है कि सरकार देश में गैर-जरूरी वस्तुओं के आयात को कम करने के विभिन्न उपायों पर गौर कर रही है.

यह भी पढ़ें: बजट का आगाज आज से, 12 बजे हलवा सेरेमनी, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को करेंगी पेश

मोदी सरकार का मानना है कि इन गैर-जरूरी वस्तुओं के आयात से देश का व्यापार घाटा बढ़ता है. शुल्क मुक्त या ड्यूटी फ्री दुकान से देश में आने वाला विदेशी यात्री आमतौर पर करीब 50,000 रुपये का सामान खरीद सकता है और इस पर उसे आयात शुल्क नहीं देना होता है. सूत्रों ने कहा कि वाणिज्य मंत्रालय ने मेक इन इंडिया (Make In India) को बढ़ावा देने तथा विनिर्माण की वृद्धि को गति देने के लिये आगामी बजट (Budget) में कागज, जूते-चप्पल, रबड़ के सामान और खिलौने आदि पर सीमा शुल्क बढ़ाने का भी सुझाव दिया है.

यह भी पढ़ें: Budget 2020: इन कंपनियों को बजट में मिल सकती है बड़ी राहत, पढ़ें पूरी खबर

वित्त मंत्रालय ने फर्निचर, रसायन, रबड़, कोटेड कागज और पेपर बोर्ड समेत विभिन्न क्षेत्रों के 300 से अधिक सामानों पर सीमा शुल्क/आयात शुल्क (Import Duty) की दर को तार्किक बनाने का प्रस्ताव दिया है.

First Published: Jan 20, 2020 10:57:04 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो