इंफोसिस (Infosys) के पूर्व CFO मोहनदास पाई ने आगामी बजट को लेकर कही ये बड़ी बात

News State Bureau  |   Updated On : January 27, 2020 03:45:36 PM
इंफोसिस (Infosys) के पूर्व CFO मोहनदास पाई ने आगामी बजट को लेकर कही ये बड़ी बात

मोहनदास पाई (Mohandas Pai) (Photo Credit : twitter )

नई दिल्ली:  

Budget 2020: इंफोसिस (Infosys) के पूर्व चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर (CFO) और आरिन कैपिटल (Aarin Capital) के चेयरमैन मोहनदास पाई (Mohandas Pai) ने आगामी बजट में काफी उम्मीदें लगाई हैं. उनका कहना है कि मौजूदा समय में बाजार में पैसा नहीं है. लिहाजा केंद्र सरकार (Union Budget 2020-21) को विदेश से पैसा कर्ज पर लेना चाहिए तभी बाजार में पैसा आएगा. उसी के बाद घरेलू अर्थव्यवस्था ठीक हो सकती है.

यह भी पढ़ें: Budget 2020: बजट से जुड़े कठिन शब्दों को बेहद आसान भाषा में यहां समझें

मौजूदा टैक्स की दरों को कम करना जरूरी
मोहनदास पाई ने टैक्स रेट में कटौती करने पर भी जोर दिया है. उन्होंने कहा कि मौजूदा टैक्स की दरों को कम करना बेहद जरूरी है. इसके अलावा केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को निवेश बढ़ाने पर भी जोर देना होगा. साथ ही टैक्स पैरिटी लाना भी बेहद जरूरी कदम है. मोहनदास पाई ने कहा कि केंद्र सरकार को टीडीएस (TDS) को 10 फीसदी से घटाकर 2 फीसदी करना होगा. साथ ही अर्थव्यवस्था को लेकर लोगों के मन मस्तिष्क को बदलना भी बेहद जरूरी है.

यह भी पढ़ें: Budget 2020: निर्मला सीतारमण से रियल एस्टेट सेक्टर ने की मांग, डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स में मिले राहत

बॉन्ड में निवेश करने वाली सेविंग स्कीम में टैक्स छूट चाहते हैं म्यूचुअल फंड्स

म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) कंपनियों संगठन एएमएफआई (AMFI) ने बॉन्ड (Bond) में निवेश को प्रोत्साहन देने के लिए बजट में कम खर्चीली बांड बचत-योजनाओं पर कर छूट की घोषणा करने का सुझाव दिया है. संगठन का कहना है कि इससे बॉन्ड बाजार का दायरा बढ़ेगा. साथ ही एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एएमएफआई) ने दीर्घकालीन पूंजी लाभ के उद्देश्य से सोना (Gold) और जिंस ईटीएफ (ETF) में बने रहने की अवधि मौजूदा तीन साल से कम कर एक साल करने का अनुरोध किया है.

First Published: Jan 27, 2020 03:39:28 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो