स्टेट बैंक (SBI) का तिमाही लाभ 41 फीसदी बढ़कर 6,797 करोड़ रुपये

Bhasha  |   Updated On : January 31, 2020 04:46:05 PM
स्टेट बैंक (SBI) का तिमाही लाभ 41 फीसदी बढ़कर 6,797 करोड़ रुपये

SBI Q3 Result (Photo Credit : फाइल फोटो )

दिल्ली:  

SBI Q3 Result: देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (State Bank-SBI) का शुद्ध लाभ वर्ष 2019 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में एक साल पहले की इसी अवधि से 41 प्रतिशत बढ़कर 6,797.25 करोड़ रुपये हो गया. इसकी बड़ी वजह बैंक के फंसे कर्जों के लिए नुकसान का प्रावधान का होना है. एक साल पहले इसी अवधि में उसे 4,823.29 करोड़ रुपये का एकीकृत शुद्ध लाभ हुआ था. स्टेट बैंक ने शेयर बाजारों को बताया कि तीसरी तिमाही में उसकी एकीकृत आय बढ़कर 95,384.28 करोड़ रुपये रही, जो 2018-19 की इसी तिमाही में 84,390.14 करोड़ रुपये थी.

यह भी पढ़ें: दुनियाभर में आई मंदी का असर भारत पर भी पड़ा, आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन का बड़ा बयान

31 दिसंबर 2019 तक SBI का NPA 6.94 फीसदी घटा
बैंक का प्रदर्शन परिसंपत्तियों के मोर्चे पर सुधरा है. 31 दिसंबर 2019 तक बैंक की सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्तियां (एनपीए) गिरकर 6.94 प्रतिशत रही. एक साल पहले इसी अवधि में यह आंकड़ा 8.71 प्रतिशत पर था। इस दौरान, शुद्ध एनपीए भी 3.95 प्रतिशत से गिरकर 2.65 प्रतिशत पर आ गया. एकल आधार पर, बैंक का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 41.2 प्रतिशत बढ़कर 5,583.36 करोड़ रुपये हो गया। 2018-19 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में उसे 3,954.81 करोड़ रुपये का एकल शुद्ध लाभ हुआ था.

यह भी पढ़ें: Economic Survey 2020: वित्त मंत्री ने संसद के सामने पेश की आर्थिक तस्वीर, जीडीपी ग्रोथ 6-6.5 फीसदी रहने का अनुमान लगाया

स्टेट बैंक ने कहा कि किसी भी तिमाही में यह उसका अब तक का सबसे अधिक शुद्ध लाभ है. 2019-20 की तीसरी तिमाही में बैंक की एकल आय बढ़कर 76,797.91 करोड़ रुपये रही, जो 2018-19 की इसी तिमाही में 70,311.84 करोड़ रुपये थी. एकल आधार पर, बैंक का फंसे कर्ज के लिए प्रावधान कम होकर 8,193.06 करोड़ रुपये रह गया। 2018-19 की तीसरी तिमाही के दौरान उसने 13,970.82 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था.

First Published: Jan 31, 2020 04:46:06 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो