मोदी सरकार लाएगी नेशनल ट्रासंपोर्ट कार्ड, यात्री देश भर में कहीं भी कर सकेंगे इस्तेमाल

News State Bureau  |   Updated On : July 05, 2019 02:00:45 PM

(Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश करते हुए कई बड़े ऐलान किए. इस दौरान उन्होंने नेशनल ट्रांसपोर्ट कार्ड जारी करने का भी ऐलान किया. उन्होंने बताया कि इस कार्ड का इस्तेमाल पूरे भारत में यात्रा के दौरान बस, रेल और पार्किंग के किराए के भुगतान के लिए किया जा सकेगा. दरअसल नेशनल ट्रांसपोर्ट कार्ड का इस्तेमाल रुपे कार्ड की मदद से किया जाएगा. सरकार इस कार्ड को इसलिए ला रही है ताकी बढ़ती आबादी के बीत यातायात को और सुगम बनाया जा सके.

इसके अलावा निर्मला सीतारमण ने और कई बड़े ऐलान किए हैं जिसके मुताबिक अगले पांच सालों में 80250 करोड़ रुपए से सवा लाख किलोमीटर सड़क का निर्माण किया जाएगा. इसी के साथ 50 लाख करोड़ रुपए से रेलवे का आधुनिकीकरण किया जाएगा. वहीं निर्मला सीतारमण ने ये भी बताया कि मेक इन इंडिया के तहत स्वदेशी को बढ़ावा दिया जा रहा है. देश को आधुनिक बनाने की दिशा में कई कार्य हो रहे हैं. 657 किलोमीटर मेट्रो को चालू किया जा चुका है. 300 किमी. नए मेट्रो प्रोजेक्ट को मंजूरी निली है. अगला मकसद देश में जल मार्ग शुरू करना है.

यह भी पढ़ें: Modi Budget 2.0: मध्य वर्ग के लिए कुछ खास नहीं, अमीरों पर कर का बोझ बढ़ा, गरीबों के लिए खोला पिटारा

वित्‍त मंत्री के रूप में पहली बार निर्मला सीतारमण ने पूर्णकालिक बजट पेश करते हुए इलेक्‍ट्रिक वाहनों की कीमतों में भी बड़ी छूट का ऐलान किया.  उन्होंने बताया कि वाहनों पर GST को 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी किया जाएगा. इसके साथ ही स्टार्टअप के लिए बड़ी छूट का ऐलान है. स्टार्ट अप को एंजल टैक्स नहीं देना होगा, साथ ही आयकर विभाग भी इनकी जांच नहीं करेगा.

यह भी पढ़ें: Union Budget 2019:ये देश को समृद्ध और जन-जन को समर्थ बनाने वाला बजट है: पीएम मोदी

मोदी सरकार ने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश करने के साथ ही एक और परंपरा को तिलांजलि दे दी है. यह परंपरा थी ब्रीफकेस में बजट पेश करने की.  शुक्रवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण वित्त मंत्रालय के बाहर बजाय ब्रीफकेस के लाल कपड़े में लिपटे बजट के साथ हाजिर हुईं. इस तरह ब्रितानी हुकूमत की याद दिलाती एक और रीति मोदी सरकार ने त्याग दी. वित्त मंत्री अपनी भाषण में इसे "देश का बहीखाता" के नाम से बोला.

First Published: Jul 05, 2019 02:00:42 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो