BREAKING NEWS
  • Pulwama Attack : भारत की बड़ी कार्रवाई, पाकिस्तान की तरह बहने वाले पानी को रोकने का फैसला- Read More »
  • PM Modi in Seoul LIVE: सियोल में बोले पीएम नरेंद्र मोदी, भारत और कोरिया के संबंध को बौद्ध धर्म ने और भी मजबूती दी- Read More »
  • MP कांग्रेस प्रभारी दीपक बाबरिया को आया ब्रेन स्ट्रोक, अस्पताल में मिलने पहुंचे राहुल गांधी- Read More »

पद्मावती विवाद: करणी सेना से मिल रही धमकियों के बाद दीपिका और संजय लीला भंसाली की बढ़ी सुरक्षा

News State Bureau  |   Updated On : November 17, 2017 09:24 AM

नई दिल्ली :  

संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' पर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है राजपूत करणी सेना की बढ़ती धमकियों के कारण दीपिका पादुकोण और फिल्म निर्देशक को सुरक्षा मुहैया करवाई गई है

राजपूत संगठन के अलावा राजनीतिक जगत से भी फिल्म के खिलाफ आवाजें उठ रही है देश के अलग-अलग हिस्सों में फिल्म के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा है। फिल्म को लेकर बढ़ते विवाद और मिलती धमकियों के चलते दीपिका पादुकोण की सुरक्षा बड़ा दी गई है।

अभिनेत्री के घर के बाहर पुलिस ने कड़ी सुरक्षा कर दी है।

करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने एक खुद का एक वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में मकराना ने कहा है कि 'वैसे तो राजपूत महिलाओं पर हाथ नहीं उठाते, लेकिन अगर जरुरत पड़ेगी तो वे वहीं करेंगे जो लक्ष्मण ने सूर्पनखा के साथ किया था।'

महाराष्ट्र के गृह मंत्री रंजीत पाटिल ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो सिनेमाघरों में भी सुरक्षा प्रदान की जाएगी संजय लीला भंसाली को पहले ही सुरक्षा मुहैया करवाई जा चुकी है

वहीं कर्नाटक में भी विवाद के चलते सुरक्षा बढ़ाई जाएगी कर्नाटक के राज्य मंत्री रामलिंगा रेड्डी पद्मावती रिलीज के वक़्त सुरक्षा के कड़े इंतजाम करेगी

और पढ़ें: 'गोलमाल' के बाद 'टोटल धमाल' करेंगे अजय, 17 साल बाद माधुरी-अनिल आएंगे साथ नजर

इस विवाद में केंद्रीय मंत्री उमा भर्ती भी कूद पड़ी है

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने गुरुवार को फिल्म 'पद्मावती' के निर्देशक संजय लीला भंसाली पर राजपूत समुदाय की भावनाओं की परवाह न करने का आरोप लगाते हुए उन पर जोरदार हमला किया। 

उमा भारती ने ट्वीट में कहा, 'यदि हम पद्मावती के आदर के बारे में बात कर रहे हैं, तो यह हमारा नैतिक दायित्व है कि हर महिला का आदर करें।'

उन्होंने कहा, 'फिल्म 'पद्मावती' की अभिनेत्री या अभिनेता का अनादर 'अनैतिक' है।'

केंद्रीय मंत्री ने फिल्म देखे बिना भंसाली की कड़ी निंदा करते हुए कहा, 'निर्देशक और पटकथा लेखक के तौर पर काम कर रहे उनके सहयोगी इसकी कहानी के प्रति जिम्मेदार हैं। उनको लोगों की भावनाओं व ऐतिहासिक तथ्यों का ख्याल रखना चाहिए।' 

यह फिल्म अभी सेंसर बोर्ड को भेजी गई है। रिलीज होने की तारीख 1 दिसंबर तय है।

उमा भारती ने कहा, 'मुझे भरोसा है कि उन्हें (सेंसर बोर्ड) पहले ही लोगों द्वारा उठाई गई चिंताओं के बारे में सूचित कर दिया गया है।'

उन्होंने कहा, 'फिल्म सेंसर बोर्ड एक स्वतंत्र संस्था है। हमें उम्मीद है कि फिल्म को लोगों की भावनाओं पर विचार करते हुए मंजूरी दी जाएगी।'

एक और ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'मेरी अपील है कि फिल्म में जिन्होंने एक्टिंग की है वो इस विषय में पक्ष न बनें, कहानी की जिम्मेवारी डायरेक्टर और स्क्रिप्ट राइटर की होती है।'

और पढ़ें: 'तुम्हारी सुलु' मूवी रिव्यू: लेट नाइट रेडियो जॉकी बनी विद्या बालन ने जीता सबका दिल

राजस्थान में महिलाओं ने किया विरोध 

राजस्थान में करीब 300 महिलाओं ने इस फिल्म के विरोध में हस्ताक्षर अभियान चलाया। साथ ही संकल्प लिया कि अगर इस मूवी को इतिहास के तथ्यों के साथ छेड़छाड़ के ही रूप में रिलीज किया तो राजपूत महिलाएं घर से निकल कर सड़क पर आ जाएंगी।

'पद्मावती' 1 दिसंबर 2017 को रिलीज होगी। इसमें दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर अहम भूमिका निभा रहे हैं। फिल्म का पहले से ही विरोध हो रहा है। कई शहरों में मूवी की रिलीज रोकने की मांग हो रही है।

और पढ़ें: GST का फायदा लोगों तक पहुंचाने के लिए केंद्र ने एंटी प्रॉफीटियरिंग अथॉरिटी के गठन को दी मंजूरी

First Published: Friday, November 17, 2017 08:36 AM

RELATED TAG: Padmavati, Uma Bharti, Sanjay Leela Bhansali,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो