#MeToo: सुष्मिता सेन ने कहा, अभियान तभी सफल, जब सुनेंगे पीड़ितो की आवाज़

अभिनेत्री ने कहा, 'समाज का हिस्सा होने के नाते लोगों को पीड़ितों की कहानियां सुननी चाहिए न कि उन्हें आंकना चाहिए. उन्हें नजरअंदाज करने के बजाए प्रेरित किया जाए. यह अभियान तब ही काम करेगा, जब हम पीड़ितों की बात सुनना शुरू करेंगे.'

  |   Updated On : October 12, 2018 12:31 PM
सुष्मिता सेन (फाइल फोटो)

सुष्मिता सेन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

बॉलीवुड अभिनेत्री सुष्मिता सेन का कहना है कि यौन उत्पीड़न के खिलाफ 'मीटू' अभियान तभी काम करेगा, जब लोग पीड़ितों की आवाज सुनेंगे. सामाजिक मुद्दों पर बेबाक राय रखने के लिए लोकप्रिय सुष्मिता ने आईएएनएस को दिए बयान में यह बात कही. सुष्मिता ने कहा, 'भले ही इस अभियान को पश्चिमी देशों से लिया गया हो, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि हम इसे नजरअंदाज कर दें. यह देखकर बेहद अच्छा लग रहा है कि महिलाएं आगे आकर अपने शोषण के खिलाफ आवाज उठा रही हैं.'

अभिनेत्री ने कहा, 'समाज का हिस्सा होने के नाते लोगों को पीड़ितों की कहानियां सुननी चाहिए न कि उन्हें आंकना चाहिए. उन्हें नजरअंदाज करने के बजाए प्रेरित किया जाए. यह अभियान तब ही काम करेगा, जब हम पीड़ितों की बात सुनना शुरू करेंगे.'

और पढ़ें- #MeToo: पीयूष मिश्रा पर पत्रकार ने लगाए यौन शोषण के आरोप, फेसबुक पर बताई आपबीती

सुष्मिता राजधानी दिल्ली में गुरुवार को लोटस मेक-अप इंडिया फैशन वीक में डिजाइनर भूमिका और ज्योति के लिए शोस्टापर के रूप में हिस्सा लेने के लिए मौजूद थीं.

First Published: Friday, October 12, 2018 07:17 AM

RELATED TAG: Metoo, India Movement, Sushmita Sen, Me Too, Me Too India,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो