तमिलनाडु की सरकारों ने कृषि क्षेत्र की उपेक्षा की: कमल हासन

अभिनेता के अनुसार, उनके गांव गोद लेने के बाद कृषि एक लाभदायक काम बन जाएगा और इससे पर्यावरण को दूषित किए बिना आस-पास के इलाकों में औद्योगीकरण होगा।

  |   Updated On : February 16, 2018 09:55 AM
कमल हासन (फाइल फोटो)

कमल हासन (फाइल फोटो)

चेन्नई:  

एक्टर से नेता बनने की राह पर कदम बढ़ा रहे कमल हासन ने तमिलनाडु में गांवों और कृषि क्षेत्र पर ध्यान नहीं देने और किसानों को संकट में रखने के लिए वर्तमान और पिछली सरकारों की निंदा की।

पूर्व में एक गांव गोद लेकर उसे आदर्श गांव बनाने का बयान दे चुके हासन ने अपनी हालिया अमेरिका यात्रा के बारे में खुलासा करते हुए कहा कि अपने लक्ष्यों को पाने के लिए वह अमेरिका में बसे भारतीयों के ज्ञान और तकनीक से सहायता लेने गए थे।

ये भी पढ़ें: कमल हासन ने कहा- अब और फिल्में नहीं, राजनीति में आने का फैसला अंतिम

तमिल पत्रिका 'विकटन हासन' में अपने नए साप्ताहिक लेख में उन्होंने लिखा कि अमेरिका में वे 'ब्लूम एनर्जी' के संस्थापक केआर श्रीधर से मिले। ब्लूम एनर्जी, ईधन सेल तकनीक पर आधारित स्वच्छ ऊर्जा का जनरेटर ब्लूम बॉक्स बनाती है।

सुपर स्टार ने बताया कि उन्होंने श्रीधर से ब्लूम बॉक्स को तमिलनाडु के गांवों में प्रयोग करने पर बात की। श्रीधर ने तमिलनाडु को भविष्य में ऐसी तकनीक का बड़ा उपभोक्ता बताया।

अभिनेता के अनुसार, उनके गांव गोद लेने के बाद कृषि एक लाभदायक काम बन जाएगा और इससे पर्यावरण को दूषित किए बिना आस-पास के इलाकों में औद्योगीकरण होगा।

हासन ने कहा कि अमेरिका में एक व्यक्ति ने कहा कि उलागा नयागान (वैश्विक नायक) अब उल्लूर नयागान (स्थानीय नायक) बन रहा है।

ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी में लें विटामिन-डी, नहीं तो मोटापे से परेशान होंगे बच्चे!

First Published: Friday, February 16, 2018 09:48 AM

RELATED TAG: Kamal Hassan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो