BREAKING NEWS
  • सोशल मीडिया पर चढ़ा Howdy Modi बुखार, अकेले मोदी ने भारत की वैश्‍विक छवि को बदल दिया है- Read More »
  • डोनाल्ड ट्रंप का आतंकवाद पर बड़ा बयान, भारत के साथ मिलकर इस्लामिक आतंकवाद से लड़ेंगे- Read More »
  • Howdy Modi : Houston में पीएम मोदी की दहाड़, अबकी बार ट्रंप सरकार- Read More »

पेट्रोल (Petrol) और डीजल (Diesel) गाड़ियां बंद नहीं होंगी, नितिन गडकरी का बड़ा बयान

सैयद आमिर हुसैन  |   Updated On : September 05, 2019 11:28:27 AM
नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) - फाइल फोटो

नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) - फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा है कि देश में पेट्रोल और डीजल की गाड़ियां बंद नहीं होगी. उनका कहना है कि केंद्र सरकार की इन गाड़ियों को बंद करने को लेकर कोई भी योजना नहीं है. ऑटो सेक्टर में मंदी के सवाल में उन्होंने कहा कि हमें पता है कि लोगों की चिंता नौकरियों के जाने को लेकर है. हम भी मंदी (Slowdown) का सामना कर रहे हैं. भारत सबसे उभरती हुई अर्थव्यवस्था है जहां ऑटो सेक्टर में बड़ी मात्रा में रोजगार दिया हुआ है.

यह भी पढ़ें: HDFC Bank और PNB के बाद आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने भी ले लिया बड़ा फैसला

दिल्ली के प्रदूषण में करीब 20 फीसदी की कमी आई
नितिन गडकरी ने कहा कि ईस्टर्न और वेस्टर्न की तैयारी की वजह से दिल्ली के प्रदूषण में करीब 20 फीसदी की कमी आई है. प्रदूषण को कम करना हमारी प्राथमिकता है. देश में हर साल 5 लाख एक्सीडेंट होते हैं. इन दुर्घटनाओं में 1.5 लाख मौते होती हैं. 25 से 35 साल के उम्र के लोगों की सबसे ज्यादा मौत होती है. उन्होंने कहा कि BS4 MS BS6 में जाने के लिए ऑटो सेक्टर से आग्रह किया है. ऑटो सेक्टर ने भी माना है कि इन सब उपायों की वजह से प्रदूषण की समस्या कम हुई है. उनका कहना है कि ऑटो सेक्टर की जो मांगे हैं उसपर हम विचार करेंगे. 3 महीने में 5 लाख के रोड कंस्ट्रक्शन अवार्ड करेंगे.

यह भी पढ़ें: Gold Price Today 5 Sep: सोने में भयंकर तेजी, आज भी खरीदारी की सलाह दे रहे हैं ज्यादातर एक्सपर्ट

नितिन गडकरी का कहना है कि पेट्रोल और डीजल पर टैक्स में कमी मांग को वित्तमंत्री के सामने रखूंगा. उनका कहना है कि आने वाले समय में भारत ऑटो सेक्टर का हब बनेगा. हालांकि उन्होंने ऑटो सेक्टर को नसीहत दी है कि वे क्वॉलिटी पर जोर दें कीमत पर नहीं. भारत मे पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन की कमी है. हमें लंदन ट्रांसपोर्ट मॉडल को देखना होगा क्योंकि भारत में इसकी काफी मांग है. ऑटो सेक्टर को एक्सपोर्ट के लिए वित्तमंत्री से बात करूंगा क्या उसके लिए इंसेंटिव दिया जा सकता है. नितिन गडकरी ने कहा कि कभी जीत होती है कभी हार होती है इसलिए हमें निराश नहीं

First Published: Sep 05, 2019 11:11:34 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो