One Nation One Election कहने वाले तीन राज्यों का चुनाव साथ नहीं करा पाए: कांग्रेस

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : September 21, 2019 02:43:23 PM
कांग्रेस ने चुनाव की तारीखों पर जताई कड़ी आपत्‍ति

कांग्रेस ने चुनाव की तारीखों पर जताई कड़ी आपत्‍ति (Photo Credit : )

नई दिल्‍ली :  

चुनाव आयोग द्वारा महाराष्‍ट्र और हरियाणा में चुनाव की तारीखों का ऐलान किए जाने के बाद कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. कांग्रेस का कहना है कि जो पार्टी One Nation One Election का नारा दे रही थी, वो एक साथ तीन राज्‍यों का चुनाव एक साथ नहीं करा पाई. कांग्रेस ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा, झारखंड की जनता भी इंतजार कर रही थी लेकिन वन नेशन वन इलेक्‍शन (One Nation One Election) कहने वाले तीन राज्यों का चुनाव साथ नहीं करवा पाए. कांग्रेस ने कहा है कि हम ये भी मुद्दा उठाएंगे कि बिना साक्ष्य के एक पूर्व केंद्रीय मंत्री को जेल में रखते हैं और रेप के आरोपी अपने नेता को बचाने की कोशिश करते हैं.

यह भी पढ़ें : स्वामी चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाने वाली छात्रा हाउस अरेस्ट

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने शनिवार को महाराष्‍ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया. इसके साथ ही 18 राज्‍यों की 64 सीटों पर उपचुनाव भी कराए जाएंगे. महाराष्‍ट्र और हरियाणा में एक साथ 21 अक्‍तूबर को चुनाव होंगे. 24 अक्‍तूबर को मतों की गिनती की जाएगी. 27 सितंबर को नोटिफिकेशन जारी होगा तो 4 अक्टूबर को नामांकन की आखिरी तारीख होगी.

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने शनिवार को महाराष्‍ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया. इसके साथ ही 18 राज्‍यों की 64 सीटों पर उपचुनाव भी कराए जाएंगे. महाराष्‍ट्र और हरियाणा में एक साथ 21 अक्‍तूबर को चुनाव होंगे. 24 अक्‍तूबर को मतों की गिनती की जाएगी. 27 सितंबर को नोटिफिकेशन जारी होगा तो 4 अक्टूबर को नामांकन की आखिरी तारीख होगी. चुनाव आयोग के अनुसार, इस बार चुनाव में उम्‍मीदवारों के खर्च की सीमा 28 लाख रुपये रखी गई है.

यह भी पढ़ें : One Nation One Election कहने वाले तीन राज्यों का चुनाव साथ नहीं करा पाए: कांग्रेस

CEC सुनील अरोड़ा ने कहा, उम्‍मीदवारों के चुनावी खर्चे पर निगरानी रखी जाएगी. उम्‍मीदवारों को 30 दिन में खर्च का हिसाब देना होगा. उम्‍मीदवार 28 लाख रुपये से अधिक खर्च नहीं कर सकते. चुनाव खर्च पर व्‍यय पर्यवेक्षक निगरानी रखेंगे. क्रिमिनल रिकॉर्ड की भी जानकारी देनी होगी. इसके साथ ही चुनाव आयोग ने ईको फ्रेंडली चुनाव का आह्वान करते हुए प्‍लास्‍टिक का इस्‍तेमाल न करने की अपील की है.

First Published: Sep 21, 2019 01:58:03 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो