BREAKING NEWS
  • कश्मीर: पुलवामा और राजपुरा में सुरक्षाबल और आतंकियों के बीच मुठभेड़, इलाके को घेरा गया- Read More »

महाराष्‍ट्र और हरियाणा में 21 अक्‍टूबर को होंगे चुनाव और 24 को होगी काउंटिंग| यहां जानें सब कुछ

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : September 21, 2019 05:34:11 PM
CEC सुनील अरोड़ा (ANI)

CEC सुनील अरोड़ा (ANI) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  उम्‍मीदवारों को 30 दिन में देना होगा चुनाव का खर्च
  •  28 लाख रुपये से अधिक खर्च नहीं कर सकते प्रत्‍याशी
  •  नक्‍सल प्रभावित जिलों में सुरक्षा के होंगे खास बंदोबस्‍त 

नई दिल्‍ली :  

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने शनिवार को महाराष्‍ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया है. महाराष्‍ट्र और हरियाणा दोनों ही राज्‍यों में एक साथ 21 अक्‍तूबर को चुनाव होंगे. 24 अक्‍तूबर को मतों की गिनती की जाएगी. 27 सितंबर को नोटिफिकेशन जारी होगा तो 4 अक्टूबर को नामांकन की आखिरी तारीख होगी. CEC सुनील अरोड़ा ने बताया, महाराष्‍ट में 288 सीटों के लिए चुनाव होंगे तो हरियाणा में 90 सीटों के लिए. महाराष्‍ट्र में इस बार 8.9 करोड़ वोटर हैं, वहीं हरियाणा में एक करोड़ 24 लाख वोटर हैं. महाराष्‍ट्र में 1.8 लाख ईवीएम का इस्‍तेमाल होगा. हरियाणा में 2 नवंबर और महाराष्‍ट्र में 9 नवंबर को वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल खत्‍म हो रहा है. चुनाव की घोषणा के साथ ही आज शनिवार से ही दोनों राज्‍यों में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है. अब इन राज्‍यों में नई योजनाओं की घोषणा नहीं हो सकेंगी.

चुनाव का पूरा शेड्यूल

  • नॉटिफिकेशन की तारीख : 27 सितंबर
  • नामांकन की आखिरी तारीख : 4 अक्टूबर
  • स्कूटनी की तारीख : 5 अक्टूबर
  • नामांकन वापसी की तारीख : 7 अक्टूबर
  • चुनाव प्रचार का आखिरी दिन : 19 अक्टूबर
  • 21 अक्टूबर को दोनों राज्यों में होगा मतदान
  • 24 अक्टूबर को आएंगे नतीजे

यह भी पढ़ें : भारत आ रहे दक्षिण अफ्रीकी कप्‍तान फाफ डू प्लेसी के साथ हुआ कुछ ऐसा कि सब कुछ गलत हो गया

सुनील अरोड़ा ने कहा, चुनावी खर्चे पर निगरानी रखी जाएगी. उम्‍मीदवारों को 30 दिन में खर्च का हिसाब देना होगा. उम्‍मीदवार 28 लाख रुपये से अधिक खर्च नहीं कर सकते. चुनाव खर्च पर व्‍यय पर्यवेक्षक निगरानी रखेंगे. क्रिमिनल रिकॉर्ड की भी जानकारी देनी होगी. चुनाव आयोग ने ईको फ्रेंडली चुनाव का आह्वान करते हुए प्‍लास्‍टिक का इस्‍तेमाल न करने की अपील की है. सुनील अरोड़ा ने कहा, महाराष्ट्र के गढ़चिरौली और गोंदिया में एलडब्ल्यूई प्रभावित क्षेत्रों के लिए विशेष सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी.

यह भी पढ़ें : इस बार संयुक्‍त राष्‍ट्र में साइबर आतंकवाद के खिलाफ आवाज उठाएगा भारत : अकबरुद्दीन

2014 में दोनों राज्यों में बीजेपी जीतकर आई थी. महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों में से बीजेपी के खाते में 122 सीटें आई थीं और देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री बने थे. जबकि हरियाणा में 90 सीटों में से बीजेपी को 47 सीटें मिली थीं. यहां मनोहर लाल खट्टर मुख्यमंत्री बने थे. झारखंड में बीजेपी ने 77 सीटों में से 35 सीटों पर कब्जा जमाया था और रघुबर दास राज्य के मुख्यमंत्री बने थे.

चुनाव की घोषणा की बड़ी बातें

  • महाराष्‍ट्र में 8.94 करोड़ वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.
  • महाराष्‍ट्र 1.8 लाख और हरियाणा में 1.3 लाख ईवीएम का इस्‍तेमाल होगा.
  • 30 दिन में उम्‍मीदवार को हिसाब-किताब देना होगा. 28 लाख रुपये होगी खर्च की सीमा.
  • उम्‍मीदवारों को क्रिमिनल रिकॉर्ड की जानकारी देनी होगी.
  • चुनाव आयोग ने चुनाव में प्‍लास्‍टिक की सामग्री का इस्‍तेमाल न करने की अपील की.
  • लोकसभा चुनाव की तरह विधानसभा चुनाव में भी ईवीएम और वीवीपैट की पर्चियों का मिलान होगा.

यह भी पढ़ें : ट्रक से लोकल मैच खेलने जाता था यह क्रिकेट खिलाड़ी, आज है टीम इंडिया का स्‍टार, क्‍या आप जानते हैं नाम

64 सीटों पर होंगे उपचुनाव
महाराष्‍ट्र-हरियाणा के साथ साथ अन्‍य राज्‍यों की 64 सीटों पर उपचुनाव भी होंगे. इसमें अरुणाचल प्रदेश, बिहार, राजस्‍थान, तमिलनाडु, उत्‍तर प्रदेश, गुजरात और असम जैसे राज्‍य शामिल हैं.

First Published: Sep 21, 2019 12:25:08 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो