पंकजा मुंडे के ट्विटर हैंडल से हटी 'BJP', कहीं बगावत के संकेत तो नहीं?

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 02, 2019 12:06:43 PM
पंकजा मुंडे के ट्विटर से हटा बीजेपी का जिक्र

पंकजा मुंडे के ट्विटर से हटा बीजेपी का जिक्र (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्ली :  

महाराष्ट्र (Maharashtra) में बीजेपी के लिए मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. बीजेपी नेता पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) ने अपने ट्विटर हैंडल से बीजेपी का जिक्र हटा लिया है. इसके कई मायने निकाले जा रहे हैं. इसके पहले पंकजा मुंडे के ट्विटर प्रोफाइल पर उनके मंत्री पद का उल्लेख होता था लेकिन विधानसभा चुनाव में हारने के बाद वह हटा लिया गया था. अब उनके प्रोफाइल पर बीजेपी का कहीं भी ज़िक्र नहीं है. ट्विटर अकाउंट के कवर पेज पर जनता को नमस्कार करते हुए पंकजा का फोटो और उनके दिवंगत पिता गोपीनाथ मुंडे का फोटो है.

यह भी पढ़ेंः यूपी से BJP के ये नेता पहुंचेंगे राज्यसभा, आज करेंगे नामांकन 

इससे पहले पंकजा मुंडे ने रविवार को अपने फेसबुक पोस्ट में कोई कोई बदलाव किए जाने की बात लिखी. पंकजा मुंडे ने पोस्ट में लिखा है, चुनाव में हार के बाद समर्थकों के कई फोन-मैसेज आए और मिलने का आग्रह किया गया लेकिन राजनीतिक स्थिति ऐसी रही कि समर्थकों से मिलना नहीं हो सका. उन्होंने पोस्ट में लिखा कि 12 दिसंबर को गोपीनाथ मुंडे की बरसी पर सभी समर्थकों से आवेदन है कि वे बैठक में शामिल हों. उन्होंने कहा कि बदलते सियासी माहौल में अपनी ताकत पहचानने की जरूरत है, 8-10 के भीतर ही बड़ा फैसला लूंगी.

यह भी पढ़ेंः अयोध्या: पुनर्विचार याचिका की मांग मुस्लिम संगठनों का दोहरा मानदंड: श्री श्री रविशंकर

मुंडे ने लिखा कि मुझे आठ दस दिन आत्मचिंतन के लिए चाहिए. जिसके बाद मैं आत्मचिंतन कर आपके साथ 12 दिसंबर को बैठक करूंगी. उन्होंने लिखा कि 12 दिसंबर, यह नेता मुंडे साहब का जन्मदिन है ... उस दिन, आप मुझसे बात करेंगे. जैसे आप मुझे देखना चाहते हैं कि मैं महाराष्ट्र के लोगों के बारे में बात कर रही हूं. मैं आपसे बातचीत करने के लिए उत्सुक हूं। तुम्हारे बिना (समर्थकों के बिना) मेरा कौन है?

बता दें, फडणवीस सरकार में पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे अपने गढ़ परली से चुनाव हार गई थीं. पंकजा को उनके चचेरे भाई धनंजय मुंडे के सामने हार का सामना करना पड़ेगा. धनंजय मुंडे फिलहाल उद्धव सरकार के साथ हैं. महाराष्ट्र विधानसभा में नेता विपक्ष धनंजय मुंडे ने अपनी बहन को लगभग 30000 वोटों से शिकस्त दी थी. धनंजय मुंडे को 121186 वोट मिले तो वहीं पंकजा मुंडे को मात्र 90418 वोट हासिल किए थे.

First Published: Dec 02, 2019 12:06:43 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो