एक भगत सिंह देश के लिए सूली पर चढ़ गए और दूसरे भगत सिंह ने लोकतंत्र की हत्‍या कर दी : संजय राउत| LIVE UPDATES

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : November 26, 2019 10:29:20 AM
'एक भगत सिंह सूली पर चढ़ गए और दूसरे ने लोकतंत्र की हत्‍या कर दी'

'एक भगत सिंह सूली पर चढ़ गए और दूसरे ने लोकतंत्र की हत्‍या कर दी' (Photo Credit : ANI Twitter )

नई दिल्‍ली :  

एक भगत सिंह देश के लिए सूली पर चढ़ गए और दूसरे भगत सिंह ने लोकतंत्र की हत्‍या कर दी. शिवसेना नेता संजय राउत ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले प्रेस कांफ्रेंस कर यह बात कही. उन्‍होंने कहा, हम राष्‍ट्रपति भवन, राजभवन, देश की जनता को दिखाना चाहते हैं कि बहुमत किसके पास है. जिसने चोरी-छिपे मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली, उनको भी दिखाना चाहते हैं. इस देश का नारा है सत्‍यमेव जयते, आपने उसकी हत्‍या की. आज संविधान दिवस पर चर्चा हो रही है, लेकिन क्‍या यही संविधान बाबा साहेब आंबेडकर ने बनाया था. कल दूध का दूध, पानी का पानी हुआ है. चांडाल चौकड़ी को बहुमत जुटाने का अधिकार देने, सत्‍ता के दम पर हमारे विधायकों को तोड़ने की कोशिश की गई. एक भी विधायक नहीं टूटा. एनसीपी के विधायक भी एकजुट हो गए हैं. हमारे पास तब भी बहुमत था और अब भी बहुमत है.

यह भी पढ़ें : तो क्‍या टूट की ओर बढ़ रही NCP? अजीत पवार के डटे रहने से शरद पवार के लिए मुश्‍किल हालात

संजय राउत ने कहा, बीजेपी सीबीआई, ईडी और अन्‍य सरकारी एजेंसियों को कार्यकर्ता की तरह इस्‍तेमाल कर रही है. सोनिया गांधी के नाम की शपथ लेने के सवाल पर संजय राउत ने कहा, वहां तीनों दलों के विधायक मौजूद थे और उनसे कहा गया कि सभी विधायक अपने-अपने नेता की शपथ लें कि वे उनकी बात मानेंगे. जब उनसे पूछा गया कि एनसीपी का व्‍हिप कौन जारी करेगा तो संजय राउत ने कहा, आप जाकर विधानसभा सचिवालय के डॉक्‍यूमेंट देख सकते हैं. जो पार्टी का नेता होगा, वहीं व्‍हिप जारी करेगा.

संजय राउत ने कहा, सोमवार शाम को एनसीपी नेता शरद पवार और शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने बीजेपी को स्‍पष्‍ट संदेश दे दिया कि महाराष्‍ट्र के स्‍वाभिमान से कोई समझौता नहीं किया जा सकता. यह गोवा और मणिपुर नहीं है. उन्‍होंने कहा, बीजेपी आखिरकार फ्लोर टेस्‍ट से क्‍यों भाग रही है. अगर उसके पास बहुमत नहीं है तो हमें मौका दे, हम 10 मिनट में बहुमत साबित कर सकते हैं. संजय राउत ने कहा, अजीत पवार को निकाल दिया गया है और अब उनकी कोई नहीं चलेगी.

यह भी पढ़ें : अजीत पवार की बगावत का कारण कहीं शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले तो नहीं?

बीजेपी से संबंधों को लेकर संजय राउत ने कहा, हमने आप पर विश्‍वास रखा. जिस बात को लेकर समझौता हुआ था, वो मान लेते तो हम आज भी साथ होते, लेकिन उन्‍होंने नहीं मानी. शरद पवार के ढाई साल सीएम को लेकर दिए बयान पर संजय राउत ने कहा, पवार साहब ने हमसे इस बारे में कोई बात नहीं की.

First Published: Nov 26, 2019 10:10:52 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो