BREAKING NEWS
  • महाराष्ट्र में सियासी घमासान: शिवसेना को राज्यपाल ने दिया झटका, और समय देने से किया इनकार- Read More »

महाराष्ट्र-हरियाणा में BJP की फिर हो सकती वापसी, देखें एम.के वेणु और अदिति फडनीस ने इसको लेकर क्या कहा?

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 21, 2019 11:10:48 PM
चर्चा में भाग लेते वरिष्ठ पत्रकार एम.के वेणु और अदिति फडनीस

चर्चा में भाग लेते वरिष्ठ पत्रकार एम.के वेणु और अदिति फडनीस (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र चुनाव का मतदान सोमवार की शाम 6 बजे संपन्न हो गया. मतदान 6 बजे तक 56 प्रतिशत हुआ. मतदान समाप्त होने के बाद एग्जिट पोल आना शुरू हो गया है. महा एग्जिट पोल के अनुसार महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना फिर से वापसी कर रहे हैं. सभी एग्जिट पोल ने बीजेपी-शिवसेना को बहुमत दिया है. महाराष्ट्र में इस बार दो गठबंधनों के बीच लड़ाई थी. बीजेपी-शिवसेना और कांग्रेस-एनसीपी के बीच सीधी टक्कर थी. लेकिन एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी की सरकार बन रही है. चुनावी ताज बीजेपी के सिर सजने वाला है. महाराष्ट्र-हरियाणा चुनाव पर वरिष्ठ पत्रकार एम.के वेणु और अदिति फडनीस चर्चा में शामिल हुए. उन्होंने इस चुनाव पर अपना विश्लेषण किया.

यह भी पढ़ें- नित्यानंद राय ने उधेड़ी पाक की बखिया, बोले- पाकिस्तानी सेना ही आतंकी और आतंकी ही इनके सैनिक

प्रश्न- क्या अमित शाह और नरेंद्र मोदी की जोड़ी सर्गेई बुक्का का रिकॉर्ड तोड़ेंगे?

अदिति फडनीस - यूक्रेन तो भारत से बहुत दूर है. भारत और यूक्रेन में कोई समानता नहीं है. हमारे सामने बहुत सारी चुनौतियां हैं और बहुत सारे सवाल भी हैं. उन्होंने कहा कि सर संघचालक मोहन भागवत ने कहा था कि यह सरकार दबे कुचले लोगों के साथ है. मेरे ख्याल से इसमें सच है. सरकार लोगों की जरूरत को जनता के नजरिए से पूरा कर रही है.

प्रश्न- क्या कारण है देश की आर्थिक राजधानी मंदी के मुद्दों पर वोट नहीं कर रहा है?

एम के वेणु- इसको लेकर मैं हैरान हूं. जो पिछले दो महीने से देख रहा हूं कि मंदी की खबरें हर रोज अखबारों की सुर्खियां हुआ करती थीं. स्टॉक मार्केट में 60 प्रतिशत कंपनी बंद होने की कगार पर है. जिसमें 50 प्रतिशत कंपनी में गिरावट हो गई है. फिर भी लोग बीजेपी को वोट कर रहे हैं. इसका मतलब है कि लोगों का श्रद्धा पीएम मोदी में बरकरार है.

प्रश्न- जाट डोमिनेंस की राजनीति क्या हरियाणा से खत्म हो जाएगी?

अदिति फडनीस- जाट डोमिनेंस की राजनीति कभी खत्म नहीं हो सकती है, लेकिन पहले जाट अपने लोगों को आगे रखते थे. उनको नौकरी देते थे, वो अब खत्म हो गया है. लैंड यूज इंडस्ट्री पूरी तरह से ठप्प है.

प्रश्न- पीएम मोदी ने मनोहर लाल खट्टर और देवेंद्र फडणवीस को लेकर जो प्रयोग किया था वो बिल्कुल सटीक साबित हुआ, क्या कारण है?

वेणु- ये सही है पीएम मोदी और अमित शाह की जोड़ी का प्रयोग सही साबित हुआ. मनोहर लाल को लेकर हरियाणा में डोमिनेंट कास्ट जाट को चैलेंज किया. वहीं महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस को लेकर मराठा को चैलेंज किया.

प्रश्न- क्या मोदी के लिए मैदान पूरी तरह से साफ है, विपक्ष अब कहां खड़ा रहेगा?

अदिति- कांग्रेस के अतंरकलह से नेतृत्व किसका है, यही लोगों को समझ नहीं आ रहा है. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि अगर आप मर्ज को डायग्नोसिस नहीं करेंगे, तो आप उसको दवाई नहीं दे सकेंगे.

प्रश्न- कांग्रेस का नब्ज टटोलने का जो काम हुआ करता था अब वो फेल हो गया है?

वेणु- पीएम मोदी अपने मुद्दे जनता के बीच बिल्कुल क्लीयर रख रहे हैं. चाहे वो आतंकवाद, सर्जिकल स्ट्राइक या अनुच्छेद 370 हो. कांग्रेस देश के मुद्दे को सही से रख नहीं पा रही है. सबसे ज्यादा बेरोजगारी बढ़ी है. ऑटो सेक्टर में इतनी मंदी छायी है. सबसे ज्यादा बुरा हाल हरियाणा का है. आज से एक साल पहले हरियाणा में हुड्डा को कमान दे दी होती तो ये हालत नहीं होती.

प्रश्न- इतनी बुरी हालत गांधी परिवार में कभी नहीं हुई?

वेणु- कांग्रेस एक कन्फ्यूज्ड पार्टी के रूप में लोगों को दिख रही है. कांग्रेस के पास इतने बड़े-बड़े मुद्दे हैं खासतौर पर आर्थिक मुद्दे, लेकिन कांग्रेस सही से जनता के बीच पहुंच नहीं पा रही है. कांग्रेस के नेता एक साथ मंच शेयर नहीं कर रहे थे. जबकि बीजेपी और शिवसेना ने एक साथ मंच शेयर करी है.

First Published: Oct 21, 2019 10:56:08 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो