BREAKING NEWS
  • यूपी: सोशल मीडिया पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के मामले में 4 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज- Read More »

डोनाल्ड ट्रंप हों या कोई और कश्मीर पर कोई हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करेंगे, महाराष्ट्र में बोले अमित शाह

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 11, 2019 01:22:06 PM
गृहमंत्री अमित शाह

गृहमंत्री अमित शाह (Photo Credit : (BJP ट्विटर हैंडल) )

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections) को लेकर गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने महाराष्ट्र के चिखली में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया है. उन्होंने कहा, हम कश्मीर मुद्दे (Kashir Issue) पर किसी अन्य देश का हस्तक्षेप नहीं चाहते हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति हों या कोई और मोदी ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है. इसमें हस्तक्षेप न करें.

यह भी पढ़ेंः

गृहमंत्री ने आगे कहा, बुलढाणा जिला न केवल विदर्भ और महाराष्ट्र के लिए बल्कि पूरे देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह माता जीजाबाई की जन्मस्थली है. महाराष्ट्र में आगामी 21 तारीख को चुनाव होना है. दोनों खेमे चुनावी मैदान में खड़े हैं. एक ओर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा और शिवसेना है, दूसरी ओर एनसीपी और कांग्रेस है. एनसीपी-कांग्रेस अपने परिवार के लिए चलने वाली पार्टी हैं, जबकि भाजपा देश के लिए चलने वाली पार्टी हैं. महाराष्ट्र की जनता को तय करना है कि उन्हें कैसी पार्टी की सरकार चाहिए.

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आगे कहा, पीएम बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने एक ऐतिहासिक फैसला लेते हुए संसद के पहले सत्र में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35A को निरस्त कर दिया. कश्मीर में पिछले 70 सालों में 40,000 लोगों की जान गई है. कांग्रेस सरकार अनुच्छेद 370 का हनन क्यों नहीं चाहती थी?. हम राजनीति से ज्यादा भारत के भविष्य की चिंता करते हैं. देश की सुरक्षा हमारे लिए राजनीति से ज्यादा महत्वपूर्ण है.

यह भी पढ़ेंःकर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम परमेश्वर के ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा, इतने करोड़ रुपये किए जब्त

अमित शाह ने आगे कहा, जब अनुच्छेद 370 पर बहस हो रही थी तब कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद कहते थे कि 370 हटाने से कश्मीर में खून की नदियां बह जाएंगी, मगर मैं आज कांग्रेस के नेताओं को कहना चाहता हूं कि 370 हटने के बाद खून की नदियां क्या, खून का एक कतरा भी नहीं बहा है. ओवरसीज आईएनसी के प्रमुख और राहुल गांधी के एक ज्ञात सहयोगी कमल धालीवाल ने हाल ही में जेरेमी कॉर्बिन से मुलाकात की और कश्मीर के हालात के बारे में बात की.

उन्होंने कहा, मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि उनके लोग अंग्रेजी नेता के सामने हमारे देश के बारे में क्या करने की कोशिश कर रहे हैं. महाराष्ट्र ने पिछले पांच वर्षों में दोहरे इंजन वाले सरकारी लाभों का लाभ उठाया है. केंद्र में पीएम मोदी, और महाराष्ट्र में सीएम फड़नवीस जी. कांग्रेसी कह रहे हैं कि 370 हटाने से महाराष्ट्र वालों को क्या मतलब. मैं यहां की जनता को पूछना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग हो ये आप चाहते हैं या नहीं?.

यह भी पढ़ेंःचौधरी सुगर मिल मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ गिरफ्तार

उन्होंने आगे कहा, सिर्फ महाराष्ट्र ही नहीं देश की समग्र जनता चाहती है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बना रहे. कांग्रेस की जितनी भी सरकारें रहीं, सभी ने विदर्भ के साथ अन्याय किया था. भाजपा ने विदर्भ को न्याय दिलाने के साथ-साथ उसे विकास के रास्ते पर आगे ले जाने का काम किया है. हमने समग्र महाराष्ट्र का विकास किया है, यही हमारी संस्कृति है.

अमित शाह ने आगे कहा, हमने महाराष्ट्र में सिर्फ एक जिले में 2.19 लाख से अधिक शौचालय बनाए हैं. पीएम मोदी ने 2.5 लाख से अधिक किसानों को सीधे 6,000 रुपये दिए हैं. गरीबों के लिए 11,000 घर बनाए गए हैं, 19,000 परिवारों को बिजली कनेक्शन और 16 लाख रुपये का ऋण उपलब्ध कराया गया है. 8,000 करोड़ रुपये लिखा गया है.

उन्होंने आगे कहा, पहले कहा जाता था कि विदर्भ में बिजली बनती है मगर यहां बिजली पहुंचती नहीं है, देवेन्द्र फडणवीस सरकार ने समग्र विदर्भ में बिजली पहुंचाई है और 5 साल के अंदर उद्योगों के 2 रुपये प्रति यूनिट बिजली में छूट देकर उद्योगों को बढ़ावा देने की शुरुआत की है. कांग्रेस और एनसीपी अपने बेटों के विकास के लिए काम कर रही है. शरद पवार, सुप्रिया सुले, अजीत पवार और उनके बेटे, सभी मैदान में हैं.

यह भी पढ़ेंःदिल्ली कांग्रेस की अंदरूनी कलह निजी हमलों के रूप में सामने आई, टूट की ओर तो नहीं बढ़ रही कांग्रेस

गृह मंत्री ने आगे कहा, क्यों भाई और किसी के पास टेलेंट नहीं है क्या? ये परिवारवादी पार्टियां महाराष्ट्र का विकास नहीं कर सकती हैं. महाराष्ट्र में एनसीपी-कांग्रेस सरकार ने राज्य में 15 साल तक लूट मचाई है. सरकार ने हमारे सैनिकों की विधवाओं के लिए आदर्श आवास योजना शुरू की थी, लेकिन उन्होंने उसे भी नहीं छोड़ा. वे उन घरों को भी ले गए. भ्रष्टाचार कांग्रेस और एनसीपी का संस्कार है.

उन्होंने आगे कहा, मैं दावे के साथ आप सभी को कहता हूं कि नरेन्द्र मोदी जी और देवेन्द्र फडणवीस जी पर हमारे विरोधी भी भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा सकते, ऐसी पारदर्शी सरकारें देने का काम भाजपा ने किया है. विकास कार्यों के मामले में हमारी सरकार ने कांग्रेस-एनसीपी के मुकाबले कहीं ज्यादा काम किया है, मगर ये चुनाव अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहला चुनाव है.

गृह मंत्री ने आगे कहा, इस चुनाव में दुनिया में ये संदेश जाना चाहिए कि पूरा भारत 370 हटाने के पक्ष में एकजुट है. कांग्रेस-एनसीपी देश को सुरक्षित नहीं रख सकते और न ही महाराष्ट्र को सुरक्षित रख सकते हैं. देश को और महाराष्ट्र को सुरक्षित रखने और विकसित बनाने के लिए महाराष्ट्र में नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व वाली भाजपा-शिवसेना की सरकार बनाना जरूरी है.

First Published: Oct 11, 2019 01:22:06 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो