Jharkhand Poll: खूंटी में पीएम मोदी बोले- सत्ता के लिए कांग्रेस-JMM जनता में डर और भ्रम फैला रही हैं

डालचंद  |   Updated On : December 03, 2019 01:43:47 PM
Jharkhand Poll: कांग्रेस-JMM की राजनीति छल और स्वार्थ की राजनीति है-PM

Jharkhand Poll: कांग्रेस-JMM की राजनीति छल और स्वार्थ की राजनीति है-PM (Photo Credit : Twitter )

खूंटी:  

Jharkhand Poll: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) पर हमला बोला है. झारखंड के खूंटी में जनसभा को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा है कि झारखंड ये भली भांति जानता है कि कांग्रेस और झामुमो की राजनीति छल और स्वार्थ की राजनीति है. जबकि बीजेपी कर्म और सेवाभाव से काम करती है. उन्होंने कहा कि आपके पड़ोस में जहां बीजेपी की सरकारें नहीं है, वहां की स्थिति आप देख लीजिए. वहां किसानों, आदिवासियों और पिछड़ों के साथ झूठे वादे करके कांग्रेस और उसके साथी दलों ने सरकार तो बना ली, लेकिन अब वादा पूरा करने से दूर भाग रहे हैं. 

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: क्यों सुदेश महतो को लुभाने में लगे हैं सत्तापक्ष और विपक्ष, जानिए सियासी समीकरण

उन्होंने कहा कि आप सभी को कांग्रेस और उसके साथियों से सावधान रहने की जरूरत है. उनका इतिहास आपको पता है, उनके कारनामें आपको याद हैं. उनकी नजर सिर्फ और सिर्फ यहां की प्राकृतिक संपदा पर है. ये लोग वापस आए तो ध्यान रखिए उनका उद्देश्य केवल लूटना है. पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस-JMM सत्ता में वापसी के लिए इतना छटपटा रहे कि वे आपके बीच झूठ फैला रहे हैं, डर और भ्रम फैला रहे हैं. ये नहीं चाहते कि यहां उद्योग लगे, पर्यटन समृद्ध हो. इनको पता है कि ऐसा हुआ तो यहां के गरीबों के पास पैसा आएगा, जिससे कांग्रेस-JMM को कोई पूछेगा नहीं.' नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज वो क्षेत्र सड़क से जुड़ रहे हैं, जहां कभी विरोधी दल के नेता झांकते भी नहीं थे. आज उन जनजातीय क्षेत्रों में भी पानी की लाइन पहुंच रही है, जिनको कांग्रेस-झामुमो की सरकारों ने अपने हाल पर छोड़ दिया था. उन पिछड़ों और आदिवासी परिवारों को भी अपना घर मिल पा रहा है, जिनको कांग्रेस-झामुमो की सरकारों ने झोपड़ियों में रहने के लिए मजबूर कर रखा था.

पीएम मोदी ने झारखंड की रैली में फिर अयोध्या विवाद का जिक्र किया. उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि राम जन्मभूमि को लेकर जिस विवाद को कांग्रेस और उसके सहयोगियों की सरकारों ने लगातार लटकाए रखा, वो भी शांतिपूर्ण ढंग से हल हो गया. प्रधानमंत्री ने कहा कि इतने लंबे काल से लटकी हुईं चीजें जिन्हें अटकाने के लिए राजनीतिक स्वार्थ से प्रेरित लोगों ने अड़ेंगे डाले, लेकिन हमने देश में शांति, एकता, सद्भाव के लिए समस्याओं का समाधान खोजने का प्रयास किया और सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहे हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा, 'भगवान राम अयोध्या से जब निकले थे, तब तो राजकुमार राम थे और जब 14 साल के वनवास के बाद वापस आए तो मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम बन गए. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि 14 साल भगवान राम ने आदिवासियों के बीच बिताए थे. ये संस्कार हैं, आदिवासी भाई-बहनों के.' रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने आगे कहा, 'जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 अब हट चुका है. अब केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर को विकास और विश्वास के पथ पर ले जाने की जिम्मेदारी आदिवासी अंचल में ही जन्मे, पले-बढ़े, उपराज्यपाल जी के कंधे पर है.'

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: क्षत्रपों के इर्द-गिर्द घूमती झारखंड की सियासत, जानिए पूरा गणित

उन्होंने कहा कि पहले चरण के मतदान के बाद ये बात भी स्पष्ट हुई है कि झारखंड के लोगों में बीजेपी सरकार के प्रति एक विश्वास की भावना है. ये भाव है कि झारखंड का विकास कोई दल कर सकता है, तो वो सिर्फ और सिर्फ बीजेपी ही है. प्रधानमंत्री ने कहा कि आज झारखंड के लोग देख रहे हैं कि दिल्ली और रांची में डबल इंजन लगाने से विकास की गति तेज भी होती है और स्थायी होती है. उन्होंने कहा कि यहां की जनता सहज रूप से कह रही है 'झारखंड पुकारा-भाजपा दोबारा.' पीएम मोदी ने कहा कि झारखंड के विकास के लिए बीजेपी की वापसी जरूरी है.

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Dec 03, 2019 01:25:23 PM

RELATED TAG:

Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो