Jharkhand Poll: जमशेदपुर में बोले पीएम मोदी- कांग्रेस-JMM के शासन काल में CM की कुर्सी भी बिकती थी

डालचंद  |   Updated On : December 03, 2019 04:10:52 PM
Jharkhand Poll: कांग्रेस-JMM सरकार में CM की कुर्सी भी बिकती थी- मोदी

Jharkhand Poll: कांग्रेस-JMM सरकार में CM की कुर्सी भी बिकती थी- मोदी (Photo Credit : News State )

जमशेदपुर :  

Jharkhand Poll: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के जमशेदपुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए जमकर व्याख्या की. उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार ने केंद्र सरकार को दिल्ली से बाहर निकालकर देश के कोने-कोने तक पहुंचाया है. दशकों से चली आ रही इस व्यवस्था में परिवर्तन का बहुत बड़ा लाभ झारखंड को मिला है. आज झारखंड भारत के इतिहास की कुछ क्रांतिकारी योजनाओं की गंगोत्री और उद्गम स्थली बना है. उन्होंने कहा कि आयुष्मान योजना जो दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है, उसकी शुरुआत का गौरव झारखंड के खाते में है. इससे एक साल में ही देश के 60 लाख से ज्यादा मरीजों को मुफ्त इलाज मिल चुका है. देश के किसान को, खेत मजदूर को, छोटे दुकानदार के लिए 60 साल की उम्र के बाद निश्चित पेंशन योजना की शुरुआत का गौरव भी झारखंड को मिला है.

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: खूंटी में पीएम मोदी बोले- सत्ता के लिए कांग्रेस-JMM जनता में डर और भ्रम फैला रही हैं

मोदी ने रैली में झामुमो और कांग्रेस की पिछली सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा कि आज झारखंड की बुलंद पहचान देश और दुनिया में है. पांच साल पहले कांग्रेस-झामुमो के राज में यहां से सिर्फ भ्रष्टाचार, लूट की खबरें आती थीं. इन दलों के अनेक शीर्ष नेताओं पर आज भी भ्रष्टाचार के केस अदालतों में चल रहे हैं. उन्होंने कहा कि अपने स्वार्थ और भ्रष्टाचार के लिए इन्होंने मुख्यमंत्री पद की कुर्सी तक का सौदा कर दिया था. उस दौरान यहां क्या-क्या खेल, खेले गए इसकी जानकारी आप सभी को है. 5 वर्ष पहले तक झारखंड राजनीतिक अस्थिरता के लिए चर्चा में रहता था. मोदी ने कहा, 'सिर्फ 15 साल में झारखंड ने 10 बार मुख्यमंत्रियों को बदलते देखा है. जबकि मैं अकेला 15 साल गुजरात का मुख्यमंत्री रहा और यहां 10 बदल गए. यानि जितनी तेजी से झारखंड का मौसम नहीं बदलता था, उतनी तेज़ी से यहां मुख्यमंत्री बदल जाते थे.'

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: क्यों सुदेश महतो को लुभाने में लगे हैं सत्तापक्ष और विपक्ष, जानिए सियासी समीकरण

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और झामुमो के अवसरवादी गठबंधन को यहां की स्थिरता रास नहीं आती. इसलिए वो एक अस्थिर व्यवस्था यहां चाहते हैं. एक ऐसी व्यवस्था जिसमें इनका कारोबार फलता-फूलता रहे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके सहयोगियों ने अपनी सरकार के 5 साल में झारखंड के रेल इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 2 हज़ार करोड़ रुपए आवंटित किए थे, जबकि बीजेपी सरकार के दौरान बीते 5 सालों में इसका 5 गुना यानि 10 हजार करोड़ रुपये से अधिक झारखंड को मिला है. मोदी ने कहा कि 2014 से पहले के 5 वर्ष में जहां झारखंड में 300 किलोमीटर से कम की रेल लाइनें चालू हुई. वहीं केंद्र में भाजपा शासन के दौरान करीब 700 किलोमीटर लाइनें खोली गई.

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: क्षत्रपों के इर्द-गिर्द घूमती झारखंड की सियासत, जानिए पूरा गणित

पीएम मोदी ने कहा, 'संवेदनशीलता हो या फिर मुश्किल फैसले लेने का साहस ये सिर्फ भाजपा की सरकारों ने करके दिखाया है. लेकिन दिल्ली में जो कांग्रेस की सरकार रही, जिसमें JMM की भी भागीदारी रही है, उसने समस्याओं को उलझाया है. हमने समस्याओं को सुलझाया है. आजादी के बाद से हिंदुस्तान के हर कोने में जम्मू-कश्मीर और 370 की चर्चा चल रही थी. संविधान में 370 को अस्थाई लिखा था, लेकिन एक टोली (कांग्रेस) उसे स्थाई बनाने में जुटी थी, कोई उसे हाथ लगाने को तैयार नहीं था. लेकिन देश की जनता ने मोदी को कठोर निर्णय लेने के लिए भेजा है. मैं राजनीति के हिसाब किताब नहीं करता हूं मैं सिर्फ देश नीति को देखता हूं। इसलिए दशकों से लटका 370 खत्म हो सका.'

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Dec 03, 2019 04:10:52 PM

RELATED TAG:

Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो