BREAKING NEWS
  • Jharkhand Poll: जमशेदपुर पूर्व सीट पर कांग्रेस और बीजेपी में होगी कांटे की टक्कर- Read More »
  • Jharkhand Poll: पहले चरण की 13 सीटों में से इन 5 सीटों पर दिलचस्प होगा मुकाबला- Read More »
  • Srilanka Presidentia Election: भारत के लिए राहत की खबर, पूर्व रक्षा मंत्री गोटाबया राजपक्षे ने जीता - Read More »

अगर सीमा पार बैठे मास्टरमाइंड और आतंकियों ने कोई गलती की तो पूरी सजा मिलेगी, मुंबई में बोले पीएम मोदी

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 18, 2019 11:41:46 PM
पीएम नरेंद्र मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी (Photo Credit : (BJP ट्विटर हैंडल) )

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होगा. इसे लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां तैयारी में जुटी हुई हैं. इसी क्रम में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को हरियाणा के महाराष्ट्र में जनसभाओं को संबोधित किया है. उन्होंने मुंबई में लोगों से कहा कि मुंबई को अवसरों की भूमि के रूप में देखा जाता है, जो भी यहां आया है, यहां से बहुत कुछ पाया है. ये इस धरती की महानता है. मुंबई में बेहतरीन ह्यूमन कैपिटल है, इनोवेटिव वेंचर कैपिटल है और मुंबई भारत की मजबूत फाइनैंशल कैपिटल भी है.

यह भी पढ़ेंः राहुल गांधी बोले- मोदी को नहीं है अर्थशास्त्र की समझ, 2004 से 2014 तक इसलिए तेजी से बढ़ी अर्थव्यवस्था

पीएम मोदी (PM Modi) ने आगे कहा कि कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) के शासन में मुंबई के विकास से ज्यादा, यहां के इंफ्रास्ट्रक्चर (Infrastructure) से ज्यादा मंत्रालय के स्ट्रक्चर (structure) पर फोकस होता था. कौन सा सीएम, कौन सा मिनिस्टर कब बदल जाए और किसकी लॉटरी लग जाए, इसी कयास और प्रयास में इनके 5 साल बीत जाते थे.

उन्होंने आगे कहा कि महायुति ने 5 साल का कार्यकाल यशस्वी रूप से पूरा करने वाला मुख्यमंत्री दिया है, और ये भी करीब-करीब 50 साल बाद हुआ है. इसके पहले 50 साल तक किसी को भी 5 साल महाराष्ट्र की सेवा करने का सौभाग्य प्राप्त नहीं हुआ. आपने महाराष्ट्र में कई भ्रष्ट सरकारों को भी देखा है और अब भरोसेमंद सरकार का भी दौर देख रहे हो. इन भ्रष्ट सरकार के तरीके भी भ्रष्टतम रहे. परियोजनाओं को लटकाकर उनसे पैसा निचोड़ा, मुद्दा बनाकर लोगों को भरमाया. वहीं ईमानदार और भरोसेमंद फडणवीस सरकार महाराष्ट्र के विकास को गति दे रही है ताकि आपलोगों को सुविधाएं जल्द से जल्द मिले.

पीएम ने कहा, मैं मानता हूं कि गरीबी के खिलाफ लड़ाई में जॉब क्रिएटर्स का रोल अहम है. हम उन सभी का सम्मान करते हैं जो अपने साथ-साथ दूसरे के लिए भी रोजगार पैदा करते हैं. आज जॉब क्रिएटर्स का सम्मान करने वालों की सरकार है. पहले की भ्रष्ट सरकार, भ्रष्टाचारियों के सपनों को पूरा करने के लिए काम करती थी. नई योजनाओं के नाम पर, किसानों को सिंचाई के नाम पर इन लोगों ने महाराष्ट्र को घोटालों से सींच दिया था. आज आपकी भरोसेमंद सरकार लोगों के सपनों को पूरा करने के लिए काम करती है.

उन्होंने आगे कहा कि पिछले पांच वर्षों में हमारी सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं लगा है. शेतकरी से लेकर स्टार्टअप्स तक के हर सपने को पूरा किया जा रहा है. अधिकतर सेवाएं ऑनलाइन हो गई हैं और भ्रष्टाचार कम हो रहा है. कांग्रेस ने जो सरकारें इस देश में चलाईं, उनकी सोच जनता को कंट्रोल करने की रही, जनता को सरकारों पर आश्रित करने की रही. जबकि भाजपा-महायुति की राजनीति के मूल में जन भागीदारी है, जन सशक्तिकरण है.

यह भी पढ़ेंः कमलेश तिवारी हत्याकांड में बड़ा खुलासा, ISIS आतंकियों के निशाने पर हिंदू समाज पार्टी के नेता

पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमी हैं जिन्होंने एंजल टैक्स खत्म किया है. एक वो भी थे, जिन्होंने एंजल टैक्स लगाया था. एक हम हैं जो, भारत में कॉरर्पोरेट टैक्स को दुनिया के अनुकूल बना रहे हैं. एक वो भी थे, जिन्होंने दुनिया की सबसे महंगी कॉरर्पोरेट टैक्स रिजीम भारत में बनाई. 10 साल तक जिन्होंने भारत की अर्थव्यवस्था, बैंकिंग व्यवस्था को बर्बाद किया है उनमें से आज कोई तिहाड़ में है, तो कोई मुंबई की जेल में. अभी तो ये सफाई अभियान की शुरुआत है, आगे और तेज काम होने वाला है.

उन्होंने आगे कहा कि मुंबई में मेट्रो बनाने का प्रस्ताव 1997 में रखा गया था, लेकिन मुंबई मेट्रो की नींव 2006 में रखी गई. और वर्ष 2013-14 तक केवल एक सिंगल लाइन खोली गई, 16 साल में सिर्फ 11 किलोमीटर. अरे ऐसी चाल से वाकई कछुआ भी शरमा जाए. नवी मुंबई में हवाई अड्डा बनाने की योजना पर बात 1997 में शुरू की गई थी, लेकिन ये प्रोजेक्ट भी लटक गया. केंद्र और राज्य में महायुती की सरकारों के प्रयास के कारण, ये प्रोजेक्ट अब जमीन पर उतर रहा है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि पहले रियल एस्टेट सेक्टर में कुछ कंपनियां ऐसी थीं जो घर लेने वालों के साथ विश्वासघात करती थी. फ्लैट खरीदने वालों को धोखा न मिले, इसके लिए हम रियल एस्टेट सेक्टर को रेरा के माध्यम से कानूनी व्यवस्था के तहत लाए और घर खरीदने वालों की आवाज बुलंद की. एक समय था जब मुंबई में बम धमाके और आतंकी हमले कभी भी हो जाया करते थे.

उन्होंने आगे कहा, मुंबई के समुद्र तट जो बिजनेस के आउटलेट थे, वो आतंकियों का प्रवेश द्वार बन गए थे. मैं आपको बताता हूं कि अब आतंक को पालने वाले जानते हैं कि अगर कोई गलती की, तो उसकी पूरी सजा मिलेगी. हमारे लिए दल से बड़ा है देश. राजनीति हम लोगों के लिए राष्ट्रसेवा का माध्यम है. हम तो भाजपा वाले हैं, मुंबई के साथ हमारा गर्भ का संदर्भ है. भाजपा के रूप में हम यहीं पैदा हुए थे, इसलिए महाराष्ट्र के लोगों की सेवा करना हमारा सहज दायित्व बन जाता है.

यह भी पढ़ेंः हरियाणा में सनी देओल ने वोटरों से बोले- अगर वोट नहीं दिया तो ये ढाई किलो का हाथ...

पीएम मोदी ने आगे कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक, बालाकोट ये सिर्फ दो-तीन शब्द नहीं हैं. ये भाजपा और उसके सहयोगियों की रीति-नीति की पहचान भी है. मुंबई में आतंकी हमले होते थे, तो उस समय कांग्रेस और उसके साथियों की सरकार ने क्या किया था?. बम धमाकों की हर जांच इशारा करती थी कि आतंकी हमला सीमा पार बैठे मास्टरमाइंड और आतंक के आकाओं ने करवाया. आतंकी संगठन खुद आगे आकर हमलों की जिम्मेदारी लेते थे. लेकिन तब कांग्रेस के नेता कहते थे, नहीं जी, आपने थोड़ी किया है, ये तो हमारे अपने लोगों ने किया है.

उन्होंने आगे कहा कि ये वही लोग हैं जो दशकों तक आर्टिकल 370 और 35A को पाले हुए थे. इसकी वजह से घाटी में आतंकवाद बढ़ता गया, भ्रष्टाचार बढ़ता गया. अनेक लोगों को उनके अधिकारों से वंचित रखा गया, लेकिन कांग्रेस और उसके जैसे अपनी स्वार्थ भरी राजनीति करते रहे. महाराष्ट्र की जनता का उत्साह विपक्ष के होश उड़ा रहा है. एनसीपी-कांग्रेस के लिए परिवार का विकास सबसे अहम है, पर भाजपा-शिवसेना के लिए देश का विकास सर्वोपरि है. महाराष्ट्र को तय करना है कि देश के लिए काम करने वाली पार्टियां चाहिए या अपने परिवार को आगे बढ़ाने वाली?.

First Published: Oct 18, 2019 09:15:45 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो