चुनाव आयोग ने कपिल मिश्रा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया, इस बयान पर हुई कार्रवाई

News State Bureau  |   Updated On : January 25, 2020 12:01:34 AM
बीजेपी के उम्मीदवार कपिल मिश्रा

बीजेपी के उम्मीदवार कपिल मिश्रा (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्‍ली :  

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) में फतह हासिल करने के लिए सभी राजनीतिक पार्टियां जोर-शोर जुटी हुई हैं. चुनाव समर के दौरान बीजेपी के उम्मीदवार कपिल मिश्रा एक विवादित ट्वीट करके बुरे फंस गए हैं. इस पर चुनाव आयोग ने दिल्ली पुलिस को कपिल मिश्रा पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने कपिल मिश्रा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है. मुकदमा दर्ज होने पर कपिल मिश्रा की मुश्किल बढ़ जाएगी.

यह भी पढ़ेंःVideo: शाहीन बाग में पत्रकारों पर जानलेवा हमला, हाथ-पर-हाथ रखे बैठी दिल्ली पुलिस

बता दें कि भारत निर्वाचन आयोग ने दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी से भाजपा के उम्‍मीदवार कपिल मिश्रा के ट्वीट को लेकर रिपोर्ट तलब किया है. चुनाव आयोग ने मुख्‍य चुनाव अधिकारी से कहा कि 24 घंटे के भीतर कपिल मिश्रा के ट्वीट को लेकर रिपोर्ट पेश किया जाए. चुनाव आयोग द्वारा इस मामले का संज्ञान लिए जाने के बाद रिटर्निंग अफसर ने बीजेपी उम्‍मीदवार कपिल मिश्रा को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है.

कपिल मिश्रा ने एक ट्वीट कर कहा था कि आठ फरवरी को दिल्‍ली की गलियों में भारत और पाकिस्‍तान का मुकाबला होगा. बता दें कि 8 फरवरी को दिल्‍ली में विधानसभा चुनाव होना है. चुनाव आयोग द्वारा नोटिस जारी होने के बाद बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने अपने बयान पर अडिग रहते हुए एक और ट्वीट किया- 'सच बोलने में डर कैसा, अपने बयान पर अडिग हूं.'

चुनाव आयोग की ओर से जारी नोटिस में कहा गया कि कपिल मिश्रा के कृत्य से आदर्श आचार संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन होता है और इस कानून के अंतर्गत यह दंडनीय अपराध है. उनसे यह भी पूछा गया है कि कारण बताए कि आपके खिलाफ क्यों न कार्रवाई शुरू की जाए?.

यह भी पढ़ेंःकैलाश विजयवर्गीय की बड़ी भूल: BJP पर भारी पड़ेगा Congress का ये हमला

कपिल मिश्रा ने अपने ट्वीट में कहा था कि शाहीन बाग में पाकिस्तान की एंट्री हो चुकी हैं. दिल्ली में छोटे-छोटे पाकिस्तान बनाए जा रहे हैं. शाहीन बाग, चांद बाग, इंद्रलोक में देश का कानून नहीं माना जा रहा. पाकिस्तानी दंगाइयों का दिल्ली की सड़कों पर कब्जा है. हालांकि, राजधानी की क्रिकेट पिच पर दोनों देश आखिरी बार सात साल पहले भिड़े थे. दोनों क्रिकेट टीमों के बीच दिल्ली में तब से अब तक कोई मैच नहीं खेला जा सका है. दिल्ली में भारत-पाकिस्तान के बीच यह वनडे मैच 6 जून 2013 को खेला गया था, जिसमें भारत ने 10 रनों से जीत दर्ज की थी.

गौरतलब है कि कपिल मिश्रा दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल सरकार में मंत्री रह चुके हैं और इस बार बीजेपी ने उन्‍हें मॉडल टाउन से उम्मीदवार बनाया है. 2017 में अरविंद केजरीवाल सरकार से कपिल मिश्रा को बर्खास्‍त कर दिया गया था.

First Published: Jan 24, 2020 08:40:05 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो