Delhi Assembly Election: अमित शाह बोले- JNU वाले केजरीवाल को जिताने में लगे हैं, लेकिन...

News State Bureau  |   Updated On : January 25, 2020 06:01:14 PM
गृह मंत्री अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह (Photo Credit : ANI )

नई दिल्‍ली :  

दिल्ली विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आती जा रही है, वैसे-वैसे नेताओं एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाना तेज कर दिए हैं. इसी क्रम में गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली के जेएलएन स्टेडियम में एक कार्यक्रम जीत की गूंज को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव में JNU वाले अरविंद केजरीवाल को जिताने में लगे हैं, लेकिन ये मुमकिन नहीं है.

यह भी पढ़ेंःMNS के बाद शिवसेना ने भी इस मुद्दे पर मोदी सरकार का किया समर्थन, कही ये बात

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि  चुनाव चाहे 2014 का हो, 2019 का हो, मणिपुर का हो, यूपी का हो, त्रिपुरा का हो या असम का, कठिन से कठिन चुनाव में भाजपा ने जीत प्राप्त की है. जिस चुनाव में हमारे साइबर योद्धाओं ने कमान संभाली, तो जीत नरेन्द्र मोदी जी की हुई. जब आप भाजपा का समर्थन करते हो, तो आप देश को सुरक्षित करने के मोदी जी के वादे का समर्थन कर रहे हो, 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यस्था तक पहुंचने के मोदी जी के लक्ष्य का समर्थन कर रहे हो, हर घर में बिजली-पानी-रसोई गैस पहुंचाने का समर्थन करते हो.

उन्होंने आगे कहा कि केजरीवाल के लिए मीडिया, कुछ NGO और JNU वाले ऐसे लगे हैं जैसे इन्हें कोई हरा नहीं सकता. भ्रांति फैलाकर एक बार चुनाव जीत गए. लेकिन पहले वाराणसी में हारे, फिर हरियाणा, पंजाब, गुजरात, दिल्ली एमसीडी में हारे. 2019 में भी केजरीवाल जी का सूपड़ा साफ हो गया. 2019 के चुनाव में दिल्ली में 13,750 बूथ थे, उसमें से 12,068 बथों में कमल का फूल खिला है. दिल्ली की जनता ने 88 प्रतिशत बूथों पर कमल के फूल को चुना है.

गृह मंत्री ने कहा कि आज मैं आप सभी को बताने आया हूं कि दिल्ली की जनता को किस प्रकार से केजरीवाल गुमराह कर रहे हैं. मैं कुछ भी बोलता हूं तो वो तुरंत ट्वीट कर देते हैं और आज कल वो दिल्ली की जनता का नाम कम लेते हैं और मेरा नाम ज्यादा लेते हैं. केजरीवाल ने वादा किया था कि घरों में पाइप लाइन से शुद्ध पानी देंगे, लेकिन बीआईएस के सर्वे में स्पष्ट हुआ है कि 21 शहरों में सबसे गंदा पानी दिल्ली की जनता को केजरीवाल दे रहे हैं. दिल्ली का जल बोर्ड फायदा कर रहा था, आज उसे घाटे में पहुंचा दिया.

उन्होंने आगे कहा कि केजरीवाल ने वादा किया था कि घरों में RO से बढ़िया पानी पाइप लाइन से देंगे. पाइप लाइन तो दूर की बात पानी ही ऐसा दिया कि 21 शहरों के सर्वे में सबसे गंदा पानी दिल्ली की जनता को दिया. AAP पार्टी को इसका जवाब देना चाहिए. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों को सुधार देंगे, लेकिन ढाई लाख बच्चे सरकारी स्कूल छोड़कर निजी स्कूलों में चले गए.

अमित शाह ने आगे कहा कि 2015 में 10वीं कक्षा के बच्चों का रिजल्ट था 95.81 प्रतिशत. 2019 में ये घटकर हो गया 71.58 प्रतिशत. आप ही बताइए शिक्षा व्यवस्था अच्छी हुई या बुरी. केजरीवाल ने दिल्ली को पीने का पानी भी जहरीला दिया, हवा भी जहरीली दी और झूठ भी जहरीला बोला. इसके अलावा दिल्ली की जनता को कुछ नहीं दिया. मोदी जी ने स्वास्थ्य को महत्वपूर्ण जानते हुए आयुष्मान भारत योजना शुरु की। गरीबों को 5 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त दिया जा रहा है. ये फायदा दिल्ली के गरीबों को नहीं मिल रहा, केजरीवाल ने इस योजना को दिल्ली में लागू नहीं किया.

यह भी पढ़ेंःकश्मीर में इंटरनेट शुरू होते ही Viral हुई उमर अब्दुल्ला की ये तस्वीर, देखकर रह जाएंगे दंग

गृह मंत्री ने कहा कि केजरीवाल ने कहा था कि शिक्षा में हम आमूल-चूल परिवर्तन ला देंगे, लेकिन इन्होंने परिवर्तन गिराने का काम किया है. इन्होंने कहा था एक हजार स्कूल बनाएंगे, अरे केजरीवाल जी जरा दिल्ली की जनता को एक हजार स्कूल नक्शे पर रख कर दिखा दो. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी वर्षों से दिल्ली के लोगों का अधिकार रोककर बैठी थी. दिल्ली में कांग्रेस और आप सरकार की अनदेखी के कारण कई जगह झुग्गियां हैं. नरेन्द्र मोदी जी ने तय किया है कि जहां झुग्गी-वहां मकान। झुग्गी वालों के भी अच्छे दिन आने वाले हैं.

उन्होंने कहा कि मैं तो मानता था कि शायद दे दी हो लेकिन कल एक जगह 88 मीटर रीडिंग का 300 रुपये का बिल लेकर एक बुजुर्ग खड़े थे, अब तो फ्री बिजली भी झूठी है. 370 और 35ए को नेहरू जी ने लगाया था, किसी की हिम्मत नहीं थी कि इसे हटा सके, क्योंकि उन्हें वोटबैंक का डर था. हम भाजपा वाले हैं, हम देशहित की राजनीति करते हैं. आपने मोदी जी को फिर से प्रधानमंत्री बनाया और उन्होंने 370 को हमेशा के लिए खत्म कर दिया है. कई वर्षों से ये देश चाहता था कि भव्य राम मंदिर बनना चाहिए, लेकिन ये केस जब भी सुप्रीम कोर्ट में आता था तो कांग्रेस के नेता अड़ंगा लगाते थे. मोदी जी की सरकार आई तो तेजी से कोर्ट में केस चला और कोर्ट ने राम मंदिर के पक्ष में फैसला दिया.

अमित शाह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी जी ने आतंकवादियों पर सर्जिकल-एयर स्ट्राइक कराई, तो विपक्षी कहते हैं कि क्यों की सर्जिकल स्ट्राइक, इसका सबूत लाइए. केजरीवाल जी अगर पाकिस्तान का टीवी चैनल देख लेते तो सबूत खुद मिल जाता, पाकिस्तानी अपनी छाती पीट रहे थे. मोदी जी CAA लेकर आएं, तो विपक्षियों ने झूठ का पुलिंदा बना दिया कि देश के अल्पसंख्यकों की नागरिकता खतरे में आ जाएगी. मैंने संसद में भी बोला और आज भी बता रहा हूं कि CAA किसी की भी नागरिकता लेने का कानून नहीं बल्कि नागरिकता देने का कानून है.

यह भी पढ़ेंःBJP ने CAA, NRC का मुद्दा उठाकर दिल्ली वालों को ‘नाराज’ किया : गोपाल राय

उन्होंने आगे कहा कि केजरीवाल कहते हैं कि भाजपा को पाकिस्तानियों की चिंता है. मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि दिल्ली में 30 प्रतिशत लोग पाकिस्तान से आए हैं. ये पाकिस्तानी नहीं हमारे भाई हैं. अगर आपका ये स्टैंड है तो कि वो पाकिस्तानी हैं, और भाजपा पाकिस्तानियों की मदद कर रही है, तो चुल्लू भर पानी में डूब मरो केजरीवाल. जो शरण में आया है, जिसका इस जमीन पर पूरा अधिकार है, उसका आप विरोध कर रहे हो.

अमित शाह ने आगे कहा कि नरेन्द्र मोदी जी ने 5 साल तक देश का विकास करने का काम किया है. आज मोदी जी विदेशों में जहां भी जाते हैं, वहां मोदी-मोदी के नारे लगते हैं। पूरी दुनिया उनका स्वागत करती है. ये नारे भाजपा के लिए नहीं, ये 130 करोड़ भारतवासियों के सम्मान में लगते हैं.

First Published: Jan 25, 2020 05:11:22 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो