यूपी का 'वर्दीवाला गुंडा', फोन पर धमकाते हुए कहा- बहुत ह.... हूं मैं, गुंडा एक्ट और ज़िला बदर की कार्रवाई करा दूंगा

| Last Updated:

नई दिल्ली:

यूपी के कुशीनगर के एक दरोगा का बयान सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। कुशीनगर जनपद के कसया थाने में तैनात दरोगा गिरीश चंद्र पाठक ने मनीष नाम के एक युवा से फोन पर बात करते हुए कहा मैं बहुत हरामी दरोगा हूं, आकर मुझसे मिल लो नहीं तो तुम्हारे ख़िलाफ़ 307 और 511 का मुकदमा लिखवा कर गुंडा एक्ट और ज़िला बदर (ज़िला से बाहर) की कार्रवाई करा दूंगा। दरोगा और मनीष के बीच हुई इस बातचीत का वीडियो अब वायरल हो गया है।

बता दें कि कुशीनगर जनपद के कसया थाना क्षेत्र के साखोपार गांव के रहने वाला मनीष जायसवाल का बगल में रह रहे पुजारी जायसवाल से लगभग ढाई साल से विवाद चल रहा है। विवाद आगे चलकर मारपीट तक पहुंच गई, जिसमें मनीष जायसवाल के विरुद्ध 2016 में 147,148, 308 धारा के तहत मुकदमा दर्ज हुआ। अब यह मामला न्यायालय में लंबित है। उसके बाद फिर से 4 अगस्त 2018 को दोबारा मनीष और पुजारी में मारपीट हुई। इस घटना को लेकर मनीष ने थाने में प्राथमिकी भी दर्ज करायी थी।

मनीष का आरोप है कि पुलिस पुजारी जायसवाल के कहने पर उसे डरा-धमका रही है। बताया जा रहा है कि फोन पर बातचीत से पहले कसया थाने के उपनिरीक्षक गिरीश चंद पाठक मामले की तफ्तीश के दौरान मनीष के घर गये थे लेकिन उस वक़्त मनीष घर पर नहीं था। दरोगा घरवालों से यह कहकर वापस चले गए कि मनीष को थाने भेज देना। मनीष को जब दरोगा के घर आने की जानकारी मिली तो वह थाने गया लेकिन उक्त दरोगा से मुलाकात नही हुई।

और पढ़ें- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करेंगे इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की शुरुआत, जमा राशि पर मिलेगा ज्यादा ब्याज

दूसरे दिन जब मनीष ने फोन किया तो दरोगा जी अपनी क्वालटी बताते हुए मनीष को मिलने की हिदायत दे डाली और कहा यदि नही मिलते हो तो मुकदमा लिखकर जिलाबदर (ज़िला से बाहर) की कार्रवाई ही कर दूंगा। दरोगा की इस हिदायत के बाद मनीष सहमा हुआ है और घर से दूर रहने को मजबूर है।

First Published: