LIVE उत्तराखंड: पौड़ी गढ़वाल में खाई में गिरी यात्रियों से भरी बस, अब तक 48 लोगों की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

| Last Updated:

नई दिल्ली:

उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में रविवार को एक बस के 60 मीटर गहरी खाई में गिरने से 48 लोगों की मौत हो गई। इससे पहले 42 लोगों की मरने की ख़बर आई थी लेकिन ताज़ा जानकारी के मुताबिक इसकी संख्या बढ़ गई है वहीं 11 लोग घायल बताया जा रहे हैं। 

घटना की जानकारी मिलते ही एसडीआरएफ की टीम को हेलिकॉप्टर से रवाना कर दिया गया है। घटना धूमाकोट इलाक़े की है जहां पर एक बस अचानक खाई में गिर गई। 

पुलिस के मुताबिक, यह दुर्घटना पिपली-भौन सड़क पर क्वीन्स ब्रिज के पास सुबह नौ बजे के आसपास हुई। चालक का बस से नियंत्रण हट गया और यह 28 सीटर बस खाई में जा गिरी।

बस धौन से रामनगर जा रही थी। इस हादसे में घायल आठ लोगों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया जिनमें से चार की हालत गंभीर बताई जा रही है।

राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) के महानिरीक्षक संजय गुंजियाल ने बताया कि घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए हेलीकॉप्टर की मदद ली जा रही है।

फिलहाल 20 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। वहीं 12 घायल लोगों को भी निकाला गया है। जिन्हें इलाज़ के लिए धूमाकोट के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। 

LIVE अपडेट्स

# मैं दुर्घटनास्थल पर ख़ुद जा रहा हूं। मैने राजनाथ सिंह और जेपी नड्डा से बात की है उन्होंने हरसंभव मदद का भरोसा दिया है।- सीएम रावत

I am going to inspect the site of the accident. I spoke to Rajnath Singh ji and JP Nadda ji who have assured all possible help: Uttarakhand CM Trivendra Singh Rawat on bus accident in Pauri Garhwal district that claimed 47 lives. pic.twitter.com/71do3ejVUV

— ANI (@ANI) July 1, 2018

# सड़क हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 47, 11 लोग घायल।

Death toll in Nainidhanda accident rises to 47. 11 people have been injured in the accident where a bus fell down a gorge in Pauri Garhwal district's Nanidhanda earlier today. #Uttarakhand pic.twitter.com/7g63BqqKTv

— ANI (@ANI) July 1, 2018

#  मैं घायलों के लिए जल्द से जल्द ठीक होने की प्रार्थना करता हूं। बचाव कार्य जारी है और अधिकारी दुर्घटना स्थल पर हरसंभव मदद मुहैया करा रहे हैं।- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

#  प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर कहा, 'उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में हुई बस दुर्घटना से बेहद दुखी हूं। शोकग्रस्त परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं।'

# प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में एक बस के खाई में गिरने की घटना में मारे गए 45 लोगों के प्रति रविवार को शोक जताया। 

# मुझे बताया गया है कि पौड़ी गढ़वाल में हुई इस बस दुर्घटना में 30 लोगों की मौत हुई है। एसडीआरएफ और अन्य एजेंसी घटना स्थल पर जाकर राहत एवं बचाव में लगे हुए है।- सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत 

# उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए और घायलों को 50-50 हजार रुपए की त्वरित आर्थिक सहायता राशि देने की घोषणा की है।

Compensation of Rs 2 lakh to the next of kin of the dead&treatment of injured will be take care of by the govt, appropriate compensation will also be given to the injured. Magisterial inquiry has been ordered: #Uttarakhand CM TS Rawat on Nainidhanda accident that claimed 20 lives pic.twitter.com/B7BjgazunX

— ANI (@ANI) July 1, 2018

# मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि आवश्यकता होने पर घायलों को उपचार के लिए देहरादून लाने के लिए हेलीकॉप्टर का प्रयोग करने का भी निर्देश दिया है।

# पौड़ी जिले के धूमाकोट के पास बस दुर्घटना का समाचार सुन कर गहरा दुख हुआ है। मैंने जिला प्रशासन को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिये हैं। स्थानीय प्रशासन, पुलिस व एसडीआरएफ बचाव कार्य में जुट गए हैं और सभी ज़रूरी प्रयास किए जा रहे हैं।- त्रिवेंद्र सिंह रावत

पौड़ी जिले के धूमाकोट के पास बस दुर्घटना का समाचार सुन कर गहरा दुख हुआ है; मैंने जिला प्रशासन को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिये हैं। स्थानीय प्रशासन, पुलिस व एसडीआरएफ बचाव कार्य में जुट गए हैं और सभी ज़रूरी प्रयास किए जा रहे हैं ।

— Trivendra S Rawat (@tsrawatbjp) July 1, 2018

# बस में कुल 50 लोग सवार थे। राहत कार्यों में लगे हुए लोगों का कहना है कि मरने वालों की संख्या काफ़ी ज़्यादा हो सकती है। वहीं मीडिया रिपोर्ट्स में 45 लोगों के मरने की आशंका भी जताई गई है।

बताया जा रहा है कि बस रविवार सुबह करीब छह बजे धौन गांव से रामनगर की ओर रवाना हुई थी। यात्री गांव में आयोजित जागरण से वापस लौट रहे थे। 

बस दुर्घटना की वजह अनियंत्रित होना बताया जा रहा है। गौरतलब है कि इलाक़ें में हर रोज़ हारिश हो रही है। ऐसे में अनुमान है कि सड़क गीली होने की वजह से मोड़ पर गाड़ी फिसल गई और खाई में जा गिरी।

हादसा इतना भीषण था कि बस के दो टुकड़े हो गए। बाद में फंसे हुए शवों को ग्रामीणों की मदद से बस से बाहर निकाला जा रहा है। हादसे में कई लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। 

और पढ़ें- दिल्ली:बुराड़ी में एक ही घर से 11 लोगों के शव मिलने से इलाके में सनसनी 

First Published: