Tumhari sulu movie review: लेट नाइट रेडियो जॉकी बनी विद्या बालन ने जीता सबका दिल

| Last Updated:

नई दिल्ली :

बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक सुपरहिट हिट फिल्में देने वाली अभिनेत्री विद्या बालन की फिल्म 'तुम्हारी सुलु' आज रिलीज हो गई है।

अपने दमदार अभिनय से किरदार में जान फूंकने की विधा के लिए मशहूर विद्या एक बार फिर प्रशंसकों व समीक्षकों की वाहवाही लूटने में कामयाब रही हैं।

विद्या ने ​कभी भी अपनी बढ़ती उम्र को अभिनय के आड़े नहीं आने दिया, यही खूबी उन्हें अन्य कलाकारों से जुदा बनाती है। फिल्म में रेडियो जॉकी के किरदार में नजर आने वाली सुलोचना घर-गृहस्थी संभालने वाली परफेक्ट पत्नी और मां भी है। इसके साथ ही वह काफी क्रिएटिव भी हैं।

आइए आपको बताते हैं विज्ञापनों के डायरेक्टर से फिल्म डायरेक्टर बने सुरेश त्रिवेणी की फिल्म में क्या खास और इसे क्यों देखें।

कहानी

फिल्म की कहानी शुरू होती है मुंबई के विरार में रहने वाली खुशमिजाज हाउस वाइफ सुलोचना (विद्या बालन) से जिसे सभी प्यार से सुलु के नाम से बुलाते हैं। सुलु को रेडियो सुनना पसंद बेहद पसंद है। वह एफ एम रेडियो शो के कई क्विज कांटेस्ट भी जीत चुकी हैं, जिसके लिए उसे कई प्राइज भी मिल चुके हैं। 

घर-गृहस्थी में उलझी सुलोचना अपनी लाइफ में कुछ अलग करना चाहती है। वहीं इस बीच सुलोचना की जिंदगी करवट लेती है और जिस रेडियो स्टेशन से उसने प्राइज जीते हैं, वही उसकी लाइफ बदल देता है। 

यहां सुलोचना को रेडियो जॉकी बनने का मौका मिलता है। इस दौरान उसे रेडियो पर नाइट आरजे का काम दिया जाता है, जहां वह ' तुम्हारी सुलु' नाइट शो में अपनी आवाज का जादू बिखेरती हैं।

और पढ़ें: 'बिग बॉस' के बाद '10 का दम' के नए सीजन की मेजबानी करेंगे सलमान खान

धीरे-धीरे वह काफी फेमस हो जाती हैं, लेकिन इस दौरान वह अपने पति और परिवार से दूर हो जाती है। सुलु को भी शायद इसका अहसास नहीं था कि वह अपनी बोरिंग जिंदगी से आजादी पाने के चक्कर में अपने बेटे और पति से इतना दूर हो जाएगी।

सुलु के पति अशोक के रूप में मानव कौल का चयन फिल्म के लिए एकदम पर्फेक्ट है। अशोक अपनी पत्नी सुलु को खुश रखने का हर संभव प्रयास करता है लेकिन इसके साथ-साथ वह अपने काम के प्रेशर को भी झेल रहा है जो कभी-कभी झुंझला जाता है।

रेडियो जॉकी के तौर पर सुलु की नाइट लाइफ फिल्म को काफी मजेदार बना देती है। 

छोटे बजट की फिल्म में विद्या ने शानदार अभिनय किया है। इसके साथ ही  पहली बार डायरेक्शन की कमान संभाल रहे सुरेश त्रिवेणी ने फिल्म में बहुत मेहनत की है। वहीं फिल्म का गाना 'बन मेरी रानी' को काफी पंसद किया जा रहा, जिसे पंजाबी गायक गुरु रंधावा ने गाया है।

'बेगम जान' फिल्म के बाद से विद्या को एक अदद हिट की तालाश थी, जो लगता है 'तुम्हारी सुलु' से पूरी हो गई है। विद्या इन दिनों केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड की ज्यूरी सदस्य भी हैं। 

फिल्म में सुलु के पति अशोक के रूप में मानव कौल ने भी बेहतरीन अभिनय किया है। वह अपनी पत्नी सुलु को खुश रखने के लिए हर वो काम करता है, जो उसे पंसद है। 

वहीं दूसरी ओर सेकंड हाफ में फिल्म थोड़ी लड़खड़ा जाती है। इंटरवल के बाद फिल्म में हल्की-फुल्की कॉमेडी के बाद सीरियस ड्रामा शुरू हो जाता है। फिल्म की पूरी कहानी सुलु के ही इर्द गिर्द घूमती नजर आती है।

क्यों देखें: 'तुम्हारी सुलु' एक पारिवारिक हास्य कॉमेडी है, जिसका आप पूरे परिवार के साथ आनंद ले सकते हैं। विद्या के फैन्स को ये​ फिल्म खासा रास आएगी, साथ ही उनकी दमदार ऐक्टिंग एक बार फिर से लोगों को सिनेमाघरों तक खींचने में कामयाब होगी।

और पढ़ें: पद्मावती विवाद: करणी सेना से मिल रही धमकियों के बाद दीपिका और संजय लीला भंसाली की बढ़ी सुरक्षा

First Published: