मुंबई के इन तीन युवकों को ट्रेन के साथ 'किकी चैलेंज' लेना पड़ा महंगा, कोर्ट ने सुनाई अनोखी सजा

| Last Updated:

नई दिल्ली:

ब्लू व्हेल गेम के बाद अब देशभर में खतरनाक डांस 'किकी चैलेंज' नें सभी की नींद उड़ा रखी है। इस किकी डांस की वजह से कई जगह गंभीर हादसे हो चुके हैं। इसे देखते हुए देश के कई राज्यों में इस पर प्रतिबन्ध लगाया जा चुका है। दुनियाभर में इसको लेकर कई हैरतंगेज वीडियो सामने आ चुके हैं। कई गंभीर हादसे होने के बाद भी इस डांस चैलेंज की सनक लोगों के दिमाग से नहीं उतर रहा है लेकिन मुंबई के तीन युवकों पर किकी चैलेंज लेना भारी पड़ गया है। अब इन्हें इस चैलेंज के बदले तीन दिनों तक स्टेशन साफ करना होगा।

बता दें कि पकड़े गए तीनों युवकों ने किकी चैलेंज लिया था और उन्होंने अपना ये वीडियो सोशल मीडिया पर डाला था। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया और कोर्ट ने उन्हें अनोखी सजा सुनाते हुए तीन दिनों तक स्टेशन की सफाई करने की सजा सुनाई है।

पुलिस ने के मुताबिक, स्टेशन प्लेटफॉर्म पर किकी चैलेंज का वीडियो फिल्माने वाले तीन आरोपियों को रेलवे आरपीएफ ने पकड़ा है। इनका नाम निशांत शाह (20), ध्रुव शाह (23) और श्याम शर्मा (24) हैं। ध्रुव शाह 'फंचो' एंटरटेनमेंट का सह संयोजक है, जबकि निशांत (20) टीवी सीरियल में भी बतौर एक्टर काम करता है।

लोकल ट्रेन से किकी चैलेंज का यह वीडियो फंचो एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनाकर वायरल किया गया था। आरोपियों ने यह वीडियो यूट्यूब और फंचो एंटरटेनमेंट के इंस्टाग्राम पर अपलोड किया था। इस खतरनाक वीडियो को यूट्यूब में 1.4 मिलियन लोग देख चुके है।

और पढ़ें: ब्लू व्हेल के बाद जानलेवा Kiki Challenge ने उड़ाई नींद, छत्तीसगढ़ पुलिस ने जारी की चेतावनी

गौरतलब है कि किकी चैलेंज के तहत चलती कार से उतरकर डांस करना होता है और फिर वापस उसी कार में बैठना भी होता है। इस दौरान कार को ड्राइवर एक हाथ से ड्राइव करता है और दूसरे हाथ से वीडियो बनाता है।

और पढ़ें: Viral: हॉलीवुड-बॉलीवुड स्टार्स नहीं ये किसान है #kikiChallenge के असली विनर

कार को धीमी गति से चलाना होता है। यह चैलेंज कनेडियन हिप हॉप सुपरस्टार ड्रेक के ताजा अलबम के 'इन माय फिलिंग' पर बनाया गया है। यह उस वक्त वायरल हो गया।

इसके बाद तो 30 जून को कनेडियन कमेडियन सिग्गी ने एक वीडियो इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर दिया, और उसके बाद से लोग अपनी जान खतरे में डालते नजर आ रहे हैं।

 

First Published: