ट्विटर पर भी 'सेक्यूलर' बने शिवपाल यादव, समाजवादी पार्टी की जगह नई पार्टी का लिखा नाम

| Last Updated:

लखनऊ:

समाजवादी पार्टी से नाता तोड़ चुके अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा बनाने के साथ ही ट्विटर पर से भी समाजवादी पार्टी से दूरी बना ली है। रविवार को शिवपाल यादव का नया ट्विटर प्रोफाइल नजर आया जिसमें वो खुद को समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा के तौर पर पेश कर रहे हैं।

हालांकि उन्होंने अपनी नई पार्टी का अभी औपचारिक तौर पर ऐलान नहीं किया है लेकिन ऐसी संभावना है कि वो जल्दी ही इसका ऐलान भी करेंगे और 2019 के लोकसभा चुनाव में अलग ताल भी ठोकेंगे।

2019 के चुनाव को देखते हुए उन्होंने चुनावी तैयारियां भी आरंभ कर दी है। उन्होंने यह भी ऐलान कर दिया है कि उनका दल राज्य की सभी 80 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगा।

पढ़ें- अकेले पड़े शिवपाल यादव, मुलामय सिंह यादव के इस कदम से हुआ साफ

इससे साफ है कि जहां अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी और महागठबंधन बनाए जाने की बातें हो रही हैं और चुनाव में बीजेपी का सूपड़ा तक साफ करने का ऐलान किया जा रहा है ऐसे में शिवपाल यादव का यह कदम महागठबंधन के लिए बड़ा नुकसान साबित हो सकता है। यानी लोकसभा चुनाव 2019 मेंसमाजवादी पार्टी और गठबंधन के लिए मुसीबत खड़ी हो सकती है।

साथ ही 2019 की ये जंग बड़ी दिलचस्प होने वाली है क्योकि जहाँ एक तरफ सबकी टक्कर वर्तमान में सत्ताधारी पार्टी बीजेपी के साथ तो है ही, अब बीजेपी के अलावा 2019 में चाचा और भतीजे की भी जंग देखने को मिलेगी क्योंकि पूर्व समाजवादी पार्टी के नेता व अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने जिस नई पार्टी समाजवादी सेक्युलर मौर्चा पार्टी का गठन किया है वही पार्टी अब 2019 में यूपी की 80 सीटों पर लोकसभा पर चुनाव लड़ेगी जिसका ऐलान खुद शिवपाल यादव ने किया है।

पढ़ें - कन्नौज से अखिलेश और मैनपुरी से मुलायम लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

दरअसल समाजवादी सेक्युलर मौर्चा पार्टी के गठन के बाद शुक्रवार को शिवपाल यादव बागपत पहुंचे और पार्टी की पहली बैठक की। यहां कार्यकर्ताओं से शिवपाल यादव ने बातचीत की और पार्टी को मजबूत बनाये जाने के लिए कुछ निर्णय लिया। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा कि यूपी की सभी 80 सीटों उनकी पार्टी 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ेगी और इसके अलावा सपा में जो लोग उपेक्षित हैं और हासिये पर हैं उन्हें सेक्युलर मौर्चा में शामिल किया जाएगा। शिवपाल यादव ने कहा कि ऐसे लोगों को इकट्ठा करके बड़ी लड़ाई लड़ेंगे क्योंकि उत्तर प्रदेश की किस्मत बदलना सेक्युलर मोर्चे के उद्देश्य है।

First Published: