आयकर विभाग ने नवजोत सिंह सिद्धू के दो बैंक खातों को सीज किया, 52 लाख का टैक्स नहीं जमा करने का आरोप

| Last Updated:

नई दिल्ली:

आयकर विभाग (आईटी) ने टैक्स जमा नहीं करने के कारण गुरुवार को पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के दो बैंक खातों को सीज कर लिया। सिद्धू पर करीब 52 लाख रुपये का टैक्स बकाया है।

सिद्धू ने 2014-15 के अपने खर्चे को काफी बढ़ा-चढ़ा कर दिखाया था जिसमें कपड़ों पर 28 लाख रुपये से ज्यादा, ट्रैवल पर 38 लाख रुपये और स्टाफ की सैलरी पर 47 लाख रुपये और पेट्रोल-डीजल पर करीब 18 लाख रुपये बताया था।

लेकिन कांग्रेस विधायक और पंजाब के मंत्री ने आयकर विभाग ने इन खर्चों का बिल नहीं उपलब्ध करवा पाए।

आयकर विभाग ने सिद्धू को कहा था कि या तो वे टैक्स जमा करें या खर्चों के बिल दिखाए। आईटी ने कहा कि सिद्धू खर्चों के बिल को जमा करने में नाकाम रहे।

बिल जमा नहीं करने के कारण सिद्धू को उनके खर्चों पर 30 प्रतिशत के हिसाब से टैक्स जमा करने को कहा जो कि 52 लाख रुपये के करीब होते हैं।

टैक्स भी जमा नहीं करने के कारण सिद्धू के बैंक खातों को सीज किया गया। हालांकि सिद्धू ने कहा कि वह पिछले 10 साल से लगातार टैक्स जमा कर रहे हैं और कभी डिफॉल्ट नहीं किए।

इससे पहले पिछले साल 17 जनवरी को सिद्धू टैक्स जमा करने के आदेश के खिलाफ सिद्धू ने अपील किया था लेकिन आयकर आयुक्त (सीआईटी) ने उन्हें कोई राहत नहीं देते हुए टैक्स जमा करने को कहा था।

और पढ़ें: आयकर विभाग ने कर नहीं चुकाने वाले 24 लोगों के नाम किए सार्वजनिक

HIGHLIGHTS

  • सिद्धू पर करीब 52 लाख रुपये का टैक्स बकाया है
  • पंजाब के मंत्री अपने खर्चों का बिल नहीं उपलब्ध करवा पाए
  • दिल्ली स्थित उनके दो खातों को सीज किया गया

First Published: