JNU की अटल जी को श्रद्धांजलि, मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट का नाम होगा वाजपेयी पर

| Last Updated:

नई दिल्ली:

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) ने अपने सबसे नए इंस्टीट्यूट का नाम वाजपेयी के नाम पर रखने का फैसला लिया है। गुरुवार (23 अगस्त) को जेएनयू की 275वीं कार्यकारी समिति की बैठक में यह फैसला लिया गया। जेएनयू अपने स्कूल ऑफ मैनेजमेंड एंड एंटरप्रेन्योशिप का नाम अटल बिहारी वाजपेयी पर रखकर उन्हें श्रद्धांजलि देंगे। जेएनयू में 2019-20 के सत्र से मैनेजमेंट स्कूल शुरू होने वाला है।

और पढ़ें : भतीजी करुणा शुक्ला का आरोप, कहा- BJP वोट के लिए वाजपेयी की 'अस्थि कलश यात्रा' का कर रही दिखावा

इसके साथ ही बैठक में कई और फैसलों पर मुहर लगी। सभी रेगुलर स्टाफ के लिए उपस्थिति अनिवार्य करने का फैसला लिया गया। इसके साथ ही मानव संसाधन मंत्रालय (एचआरडी) की नई फंडिंग स्कीम के तहत 'हायर एजुकेशन फंडिंग एजेंसी' से फंडिंग के लिए अप्लाई करने की भी बात कही गई।

देश की अन्य ताज़ा खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें... http://www.newsstate.com/india-news

गौरलतब है कि देश के कोने-कोने में संस्थाएं अपना नाम बदलकर वाजपेयी के नाम पर रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। छत्तीसगढ़ सरकार ने अपने कई संस्थानों और जगह का नाम वाजपेयी के नाम पर रखने की घोषणा की है।

छत्तीसगढ़ की नई राजधानी नया रायपुर का नाम अब 'अटल नगर' कर दिया गया। वहीं, सेंट्रल यूनिवर्सिटी अब 'अटल बिहारी वाजपेयी यूनिवर्सिटी' के नाम से जानी जाएगी।
इधर बीजेपी भी अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए पूरे देश भर में अस्थि कलश यात्रा निकाल रही है।

और पढ़ें : मध्यप्रदेश सरकार ने अटल बिहारी वाजपेयी की याद में तीन पुरस्कार देनी की घोषणा की, हबीबगंज स्टेशन का नाम बदलने की भी सिफारिश

First Published: