DUSU Elections: 52 केंद्रों पर मतदान, 23 उम्मीदवारों के बीच टक्कर

| Last Updated:

नई दिल्ली:

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (Delhi University Students Union- DUSU) चुनावों के लिए बुधवार को सुबह साढ़े 11 बजे तक 34 फीसदी मतदान हुआ। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि राष्ट्रीय राजधानी के कॉलेजों में 52 केंद्रों पर मतदान चल रहा है। डूसू चुनावों में 1.35 लाख छात्र 23 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला कर सकेंगे। सुबह साढ़े आठ बजे और साढ़े नौ बजे के बीच 18.5 फीसदी मतदान हुआ और सुबह साढ़े 11 बजे तक 34 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

उत्तरी परिसर (नोर्थ कैम्पस) में भारी संख्या में पुलिस बल यानी करीब 700 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। पुलिस ने रामजस कॉलेज के बाहर प्रश्नचिह्न का निशान पहने एक व्यक्ति को पकड़ा है। अधिकारी ने बताया कि वरिष्ठ संकाय सदस्यों को केंद्रों पर पर्यवेक्षकों के तौर पर तैनात किया गया है और करीब 700 इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें लगाई गई हैं।

कॉलेजों में मतदान बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे शुरू हुआ और यह दोपहर एक बजे तक चला। शाम की पाली वाले कॉलेजों में दोपहर तीन बजे से लेकर शाम साढ़े सात बजे तक मतदान होगा।

DUSU चुनाव में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (NSUI) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के प्रत्याशी मैदान में हैं, वहीं आम आदमी पार्टी (AAP) की छात्र इकाई छात्र युवा संघर्ष समिति ने वामपंथी छात्र संगठन अखिल भारतीय छात्र संघ (AISA) के साथ गठबंधन किया है।

NSUI ने इन चुनावों में दिल्ली विश्वविद्यालय को 'उत्कृष्टता संस्थान' का दर्जा दिलाने और दस रुपये की थाली का वादा किया है जबकि ABVP ने छात्र संघ का 50 फीसदी बजट महिलाओं और सामाजिक न्याय संबंधित गतिविधियों पर खर्च करने तथा खेलों को बढ़ावा देने और कॉलेज परिसरों में सैनिटरी पैड वेंडिंग मशीनें लगाने का वादा किया है।

AAP के फरवरी 2015 में दिल्ली में सत्ता में आने के बावजूद उसकी छात्र ईकाई डूसू चुनावों में असफल रही है। उसने सीसीटीवी कैमरे लगाने, परिसर में पुलिस बूथ लगाने, 'गुंडागर्दी की संस्कृति' खत्म करने और शिक्षा के व्यावसायीकरण का विरोध करने का वादा किया है।

और पढ़ें- RBI के पूर्व गवर्नर राजन ने किया खुलासा, कहा- PMO को भेजी थी बैंकिंग घोटालेबाजों की लिस्ट

मतदान के नतीजे गुरूवार को घोषित किए जाएंगे। पिछले साल 43 फीसदी मतदान हुआ था।

First Published: