बागपत: नगर पालिका ने सुनाया तुगलकी फरमान, कहा- खुले में शौच करने पर जल्द दी जाएगी मौत की सजा

| Last Updated:

नई दिल्ली:

खुले में शौच करने पर जुर्माने लगने वाली बात तो हर किसी ने सुनी होगी लेकिन अब खुले में शौच करने पर मौत की सजा भी मिल सकती है। उत्तरप्रदेश के बागपत में एक ऐसा ही तुगलकी फरमान जारी किया गया है। यह चेतावनी किसी पंचायत ने नहीं बल्कि सरकारी विभाग नगर पालिका द्वारा दिया गया है। दरअसल 'स्वच्छ भारत मिशन' के अन्तर्गत बागपत नगर पालिका क्षेत्र में पालिका द्वारा लोगों को जागरूक करने के ये होर्डिंग लगाए गए है।

इन होर्डिंग पर लिखे शब्दों से लोग जागरूक कम और खौफज़दा ज्यादा लग रहे है क्योंकि इसपर बड़े-बड़े शब्दों में साफ तौर पर लिखा गया है कि 'खुले में शौच करोगे तो जल्दी मौत दी जाएगी।'

इससे यही लग रहा है कि अगर कोई खुले में शौच करते पाया गया तो उसे मौत के घाट उतार दिया जाएगा। नगर पालिका ने इसे किस उद्देश्य से लगाया है या इसका क्या मतलब है वो तो साफ नहीं हो पाया है लेकिन उनके इस अजीबों-गरीब चेतावनी की हर लोग भर्तसना कर रहे हैं। वहीं इलाके के कुछ प्रतिष्ठित लोग इसे 'स्वच्छ भारत मिशन' के लिए एक मजाक मान रहे है।

और पढ़ें: NRC के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई, जानें पूरा माजरा

इस मामले पर नगर पालिका के कर्मचारी और अधिकारी मीडिया को अपना बयान देने मना कर रहे हैं। वहीं प्रशासनिक अधिकारियों की माने तो ऐसा कोई स्लोगन 'स्वच्छ भारत मिशन' के लिए नहीं है। वहीं अधिकारियों की माने तो नगर पालिका के लोगों के से स्पष्टीकरण देने का आदेश दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है।

First Published: