गोवा के पर्यटन मंत्री ने कहा- हमें ऐसे पर्यटकों की जरूरत नहीं, जो नशे के आदी हों और समुद्र तट पर बोतलें तोड़ते हों

| Last Updated:

पणजी:

गोवा के पर्यटन मंत्री मनोहर अजगांवकर ने गुरुवार को विधानसभा में कहा कि गोवा के लोग शराब को संभाल सकते हैं, लेकिन नशे के आदी पर्यटकों को नहीं संभाल सकते।

अजगांवकर ने विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान यह बात कही।

उन्होंने कहा, 'हमें ऐसे पर्यटकों की जरूरत नहीं, जो नशे के आदी हों और समुद्र तट पर बोतलें तोड़ते हों। उन्हें संस्कृति का ध्यान रखना होगा। अगर एक गोवा निवासी सड़क पर चलता है और शराब का सेवन करता है, तो वह घबराएगा नहीं। वह शांत रूप से बात करेगा।'

अजगांवकर का बयान उस समय आया, जब राज्य सरकार ने सार्वजनिक रूप से पीने पर प्रतिबंध लगाने की बात कही। पर्यटन मंत्री ने कहा कि दोनों मुद्दे खतरा बन गए हैं और ऐसे में वह गोवा में गलत पर्यटकों को आने से रोकना चाहेंगे।

देश में युवाओं को गोवा के समुद्र तट और अन्य चीजें काफी आकर्षित करती हैं और यह शीर्ष पर्यटन स्थलों में से एक है। वार्षिक रूप से यहां 70 लाख से अधिक पर्यटक आते हैं।

और पढ़ें: गोवा : NSUI ने BJP पर लगाया आरोप, 10वीं की किताब से नेहरू हटा सावरकर की लगवाई फोटो

First Published: