गुजरात: दलितों और राजपूतों के बीच भड़की हिंसा, नाम के आगे लगाया था 'सिंह'

| Last Updated:

नई दिल्ली:

गुजरात के ढोलका शहर में एक दलित युवक ने अपने नाम के पीछे 'सिंह' लगा लिया जिसके बाद राजपूतों और दलितों के बीच मार-पीट का मामला सामने आया है।

इस मामले में पुलिस ने बताया कि दो एफआईआर दर्ज कराई गई है। दोनों पक्षों ने हिंसा के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहराया है।

पुलिस ने बताया कि मौलिक जाधव नाम के शख्स ने हाल ही में फेसबुक पर घोषणा की थी कि उसने अपने नाम में 'सिंह' जोड़ लिया है और अब से उसे मौलिक सिंह जाधव के नाम से जाना जाएगा।

जिसके बाद सहदेव सिंह वघेला नाम के एक राजपूत व्यक्ति और पांच अन्य व्यक्तियों के साथ मिलकर मौलिक के घर में घुसकर उसकी पिटाई कर दी।

जाधव ने मीडिया से कहा कि उसने बनासकांठा जिले में एक दलित व्यक्ति पर हमले के विरोध में यह फैसला किया क्योंकि उस व्यक्ति ने अपने नाम में 'सिंह' जोड़ लिया था।

जाधव ने कहा, 'इससे राजपूत लोग नाराज हो गये और काफी समय से मुझे मारने की धमकी दे रहे थे।'

इसके जवाब में राजपूत समाज के धीरजबा महिपात सिंह वघेला ने आरोप लगाया कि दलितों के समूह ने मंगलवार रात उसके आवास में तोड़फोड़ की और उसका कीमती सामान लूट लिया।

पुलिस ने बताया कि दोनों मामलों में फिलहाल कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

आपको बता दें कि 'सिंह' उपनाम आमतौर पर राजपूत समुदाय के सदस्य लगाते हैं।

और पढ़ें: कुमारस्वामी के बहाने विपक्षी हुए साथ, क्या 2019 में मोदी को दे पाएंगे मात

First Published: