Qarib Qarib Single Review: इरफान खान की कॉमेडी और पार्वती का भरपूर ड्रामा, मजेदार है फिल्म

| Last Updated:

मुंबई:

मूवी का नाम: करीब करीब सिंगल
स्टार कास्ट: इरफान खान, पार्वती
डायरेक्ट का नाम: तनुजा चंद्रा
जॉनर: कॉमेडी
मूवी रेटिंग: 3.5

इरफान खान बॉलीवुड के ऐसे एक्टर हैं, जो अपनी शानदार एक्टिंग से किरदार में जान डाल देते हैं। हिंदी मीडियम के बाद अब उनकी 'करीब करीब सिंगल' 10 नवंबर को रिलीज हो गई। फैंस को इस फिल्म का बेसब्री से इंतजार था, लेकिन सिनेमाघर जाने से पहले पढ़ें फिल्म का रिव्यू...

कहानी

फिल्म की कहानी दो ऐसे किरदारों पर है, जो उम्र के एक पड़ाव पर आकर भी सिंगल हैं और साथी की खोज में जुटे हैं। जयश्री (पार्वती) पति की मौत के बाद इंश्योरेंस कंपनी में काम करती हैं। वहीं योगी प्रजापति (इरफान खान) एक फ्लॉप कवि हैं। सोशल मीडिया के जरिए दोनों की मुलाकात होती है।

किसी वजह से जयश्री और योगी को एक साथ लंबी छुट्टी बितानी पड़ती है। इस दौरान दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो जाता है। हालांकि, दोनों प्यार का इजहार नहीं कर पाते हैं, लेकिन आखिर ऐसा क्यों होता है? ये देखने के लिए आपको सिनेमाघर जाना होगा।

(राजकुमार राव की 'मेरी शादी में जरूर आना' मूवी रिव्यू पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)

एक्टिंग और कॉमेडी

इस फिल्म में आपको जबरदस्त एक्टिंग और कॉमेडी देखने को मिलेगी। इरफान के वन लाइनर बेहद शानदार हैं। साउथ फिल्मों की एक्ट्रेस पार्वती इस फिल्म से बॉलीवुड डेब्यू कर रही हैं। उन्होंने पहली बार किसी हिंदी फिल्म में काम किया है। इसके बावजूद कहीं-कहीं वह इरफान पर भारी पड़ती नजर आ रही हैं।

डायरेक्शन

इस फिल्म का डायरेक्शन तनुजा चंद्रा ने किया है। उन्होंने जबरदस्त कॉमेडी के साथ पर्दे पर अच्छी कहानी पेश की है।

म्यूजिक

फिल्म में ज्यादा गाने नहीं हैं। हालांकि, जो गाने हैं, वह सही समय पर दिखाए गए हैं। म्यूजिक के लिहाज से आपको थोड़ी निराशा मिल सकती है।

ये भी पढ़ें: नोएडा ऑनलाइन घोटाला: ED ने नवाजुद्दीन सिद्दीकी को किया तलब, होगी पूछताछ

First Published: