बालिका गृह कांड: पप्पू यादव ने बोला नीतीश सरकार पर हमला, कहा-आरोपियों को बचा रही है सरकार

| Last Updated:

नई दिल्ली:

जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और सांसद पप्पू यादव ने बुधवार को कहा कि मुजफ्फरपुर आश्रयगृह में लड़कियों से हुए दुष्कर्म के मुद्दे पर सत्ता और प्रतिपक्ष दोनों चुप हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि मुजफ्फरपुर और पटना आश्रय गृह मामले में आरोपियों को सुनियोजित ढंग से बचाया जा रहा है। उन्होने कहा, 'महिलाओं को बचाने के लिए जन अधिकार पार्टी अब सड़कों पर उतरेगी। पार्टी द्वारा छह से 13 सितंबर तक 'नारी बचाओ पदयात्रा' का आयोजन किया गया। यह पदयात्रा छह सितंबर को मधुबनी जिले के बासोपट्टी से शुरू होगी और 13 सितंबर को पटना में समाप्त होगी।'

पटना में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए सांसद ने सवालिया लहजे में कहा कि अभी तक पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के पति की गिरफ्तारी क्यों नहीं हो सकी आश्रयगृह से गायब लड़कियां कहां हैं और गवाह कहां हैं इन सवालों को दरकिनार कर सभी दल वर्ष 2019 में होने वाले चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं।

सांसद ने कहा कि जन अधिकार पार्टी नारी सम्मान और मां-बहनों की अस्मिता की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। यही वजह है हम लोगों में जागृति लाने और नेताओं व सफेदपोशों को बेनकाब करने के लिए पदयात्रा कर रहे हैं।

उन्होंने अश्लील इंटरनेट साइटों पर प्रतिबंध लगाने की मांग करते हुए कहा कि आज इंटरनेट पर ऐसे साइट सबसे ज्यादा सर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे साइटों पर प्रतिबंध लगाने के लिए हमलोग अदालत भी जाएंगे।

एससी, एसटी एक्ट पर वोट की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि कई राजनेता इस मुद्दे को लेकर समाज में नफरत फैला रहे हैं। यह देश को बांटने की प्रवृति उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि कानून पहले भी थे, मगर इस पर आज हंगामा क्यों हो रहा है

सवर्ण बंद पर पप्पू यादव ने कहा कि आखिर देश महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ, गरीबी, रोजगार, स्वास्थ्य के मुद्दे पर एक साथ क्यों नहीं हो रहा।

एससी, एसटी एक्ट से किसी को दिक्कत नहीं है, बस देश तोड़ने वाले कुछ गुंडे इस ओछी मानसिकता से लोगों में नफरत फैलाकर अपनी राजनीति चमकाना चाहते हैं।

First Published: