बिहार में मॉब लिंचिंग, तीन बदमाशों की पीट-पीटकर हत्या, छात्र को करने आए थे किडनैप

| Last Updated:

नई दिल्ली:

लोकतंत्र पर भीड़तंत्र हावी होने का मामला एक बार फिर सामने आया है। बिहार के बेगूसराय में ताजा मामला सामने आया है। जहां भीड़ ने तीन बदमाशों को पीट-पीटकर मार डाला। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो शुक्रवार को हथियार बंद तीन बदमाश एक स्कूल के अंदर छात्रा को अगवा करने के इरादे से घुस गए।

Three criminals died after they were beaten up school teachers and villagers when they had entered a school premises to kidnap a student: Aditya Kumar, Begusarai Superintendent of Police #Bihar

— ANI (@ANI) September 7, 2018

ये बदमाश अपने मंसूबों में कामयाब हो पाते, उससे पहले ही स्कूल में मौजूद स्थानीय लोगों के हत्थे चढ़ गए, जिन्होंने तीनों को पीट-पीटकर मार डाला। जिले के छौराही थाना क्षेत्र के पंसल्ला गांव स्थित नवसृजित प्राथमिक विद्यालय में पढ़ने वाली एक छात्रा को अगवा करने के इरादे से ये तीनों बदमाश वहां पहुंचे थे। ये छात्रा को अगवा करके ले जाने की फिराक में थे, तभी स्कूल के प्रिंसिपल ने इसका विरोध किया। इस पर इन बदमाशों ने प्रिंसिपल की पिटाई कर दी।

और पढ़ें : बीजेपी के पोस्टरों में राजीव गांधी को मॉब लिंचिंग का 'जनक' बताया गया

जिसके बाद स्कूल परिसर में हल्ला मच गया। जिसकी वजह से स्थानीय लोग वहां पर इकट्ठा हो गए। इसके बाद उन्होंने बदमाशों को पकड़कर जमकर पिटाई की। इतना ही नहीं पुलिस भी इस भीड़ तंत्र के आगे बेबस नजर आई। हालांकि बाद में बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंची और बदमाशों को भीड़ से निकालकर अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मृतकों की पहचान मुकेश महतो, हीरा सिंह समेत अन्य के रूप में की गई है। बताया जा रहा है कि एक बदमाश मुकेश महतो बेगूसराय जिले का कुख्यात अपराधी नागमणि महतो का भाई है।

और पढ़ें : बेकाबू भीड़ पर नहीं लग रही है लगाम, दिल्ली में चोरी के आरोप में किशोर की पीट-पीट कर हत्या

First Published: